(शिवम् अवस्थी), नई दिल्ली। भारतीय बल्लेबाज विराट कोहली और टीम डायरेक्टर रवि शास्त्री ने पांच गेंदबाजों को खिलाने के अपने फैसले पर अमल किया और उसके नतीजे भी देखने को मिले। पहले ही दिन भारतीय टीम ने श्रीलंकाई टीम को 183 रन पर समेट दिया लेकिन कप्तान का ये आइडिया अब उनकी टीम पर भारी भी पड़ सकता है।

दरअसल, टीम इंडिया पांच गेंदबाजों के साथ तो खेल रही और उसके नतीजे भी अच्छे दिख रहे हैं लेकिन इससे ये बात भी साफ है कि बल्लेबाजी क्रम में कहीं न कहीं कमजोरी आ जाएगी। पहले टेस्ट के पहले दिन हमारे दो शीर्ष बल्लेबाज लोकेश राहुल (7 रन) और रोहित शर्मा (9) सस्ते में आउट हो गए। भारतीय टीम एक समय 28 रन पर अपने दो विकेट गंवा चुकी थी। भला हो कप्तान कोहली और धवन का, जिन्होंने शतकीय साझेदारी करके पारी को संभाल लिया लेकिन अब भी टीम इंडिया 55 रन पीछे है।

क्रिकेट की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अब उसके पास 8 विकेट बाकी हैं। बल्लेबाजों में धवन और कोहली के बाद अब हमारे पास सिर्फ रहाणे और विकेटकीपर बल्लेबाज साहा के रूप में दो अन्य खिलाड़ी मौजूद हैं। उसके बाद ऑलराउंडर अश्विन जरूर मौजूद हैं लेकिन बल्लेबाज के तौर पर वो निरंतर नहीं रहे हैं यानी कुछ विकेट गिरते ही पुछल्लों का पिच पर आना शुरू हो जाएगा। अगर श्रीलंकाई टीम ने दूसरे दिन हावी होकर गेंदबाजी की तो अब भी मेजबान टीम मैच में अपनी पकड़ मजबूत कर सकती है। देखना दिलचस्प होगा कि दूसरे दिन के खेल में भारतीय टीम की रणनीति कैसी रहती है।

खेल जगत की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Shivam