नई दिल्ली, पीटीआइ। हमेशा से विवादों में घिरा रहा दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) हाल में हुए नए चुनावों के बाद भी विवादों से अछूता नहीं रह सका। डीडीसीए के नवनियुक्त निदेशक (क्रिकेट) संजय भारद्वाज ने शनिवार को प्रेस कांफ्रेंस आयोजित करके डीडीसीए अध्यक्ष रजत शर्मा पर मनमानी एवं लोढ़ा समिति की सिफारिशों को न मानने के आरोप लगाए। संजय ने क्रिकेट समिति में शामिल लोगों पर हितों के टकराव के आरोप लगाए हैं, जो लोढ़ा समिति की सिफारिशों का उल्लंघन है।

उन्होंने साथ ही डीडीसीए की सीनियर एवं जूनियर चयन समिति में शामिल लोगों पर भी हितों के टकराव के आरोप लगाए। संजय के मुताबिक लोढ़ा समिति की सिफारिशों के अंतर्गत कोई भी ऐसा खिलाड़ी बोर्ड में शामिल नहीं हो सकता, जिसके प्रतिस्पर्धी क्रिकेट से संन्यास को कम से कम पांच साल न हुए हों। लोढ़ा समिति की सिफारिशों के मुताबिक एक पद पर बैठा व्यक्ति दूसरा पद ग्रहण करने के लिए उपयुक्त नहीं है।

संजय ने कहा कि मैंने लोकपाल को भी पत्र लिखा लेकिन बहुत दिनों तक उन्होंने कोई जवाब नहीं दिया। मुङो लगा कि नौ अगस्त 2018 को सर्वोच्च न्यायालय में बीसीसीआइ संविधान से संबंधित सुनवाई के बाद वह जवाब देंगे, लेकिन अभी तक उन्हें ठोस कदम उठाए जाने का इंतजार है। संजय ने जूनियर और सीनियर चयन समिति के गठन को भी कठघरे में खड़ा किया है।

सीनियर चयन समिति में पूर्व भारतीय तेज गेंदबाज अमित भंडारी (चेयरमैन), रजत भाटिया, सुखविंदर सिंह के नाम शामिल हैं। संजय के मुताबिक, अमित और सुखविंदर क्रिकेट अकादमी में कोच हैं जबकि रजत अभी तक घरेलू क्रिकेट में सक्रिय हैं।

जूनियर चयन समिति में दो महीने पहले अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट को अलविदा कहने वाले परविंदर अवाना, सिद्धार्थ साहिब सिंह वर्मा और वीरेंद्र सहवाग के रिश्तेदार मयंक तेहलान शामिल हैं। संजय ने कहा है कि उनका मकसद डीडीसीए को साफ सुथरा बनाना है और अगर उनके द्वारा उठाए गए मुद्दे सुलझा दिए जाते हैं, तो उन्हें बेहद खुशी होगी।

वहीं चयनकर्ता रजत भाटिया ने कबूला कि उन्होंने अभी क्रिकेट से संन्यास नहीं लिया है। वह फरवरी में ही ढाका प्रीमियर लीग में खेले हैं। उन्होंने कहा कि एक बार जब मैं करार कर लेता तो मैं अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास ले लेता। जहां तक सुप्रीम कोर्ट के आदेश का सवाल है तो मुझे इसके बारे में जानकारी नहीं थी। मैंने डीडीसीए को कहा है कि अगर मेरी नियुक्ति में कोई परेशानी है तो मैं हट सकता हूं।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें   

Posted By: Pradeep Sehgal

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस