नई दिल्ली, जेएनएन। वेस्टइंडीज टीम के पूर्व कप्तान और कैरेबियाई टीम को लगातार दो टी20 वर्ल्ड कप जिताने वाले ऑलराउंडर डैरेन सैमी ( Darren Sammy) पाकिस्तान की नागरिकता चाहते हैं। पाकिस्तान की नागरिककता हासिल करने के लिए डैरेन सैमी ने आवेदन भी कर दिया है। पाकिस्तान सुपर लीग में पेशावर जाल्मी (peshawar zalmi) टीम की कप्तानी कर रहे सैमी का पाकिस्तान में क्रिकेट शुरू कराने में बड़ा योगदान है।

पाकिस्तान सुपर लीग (PSL) का पांचवां संस्करण खेला जा रहा है, जिसके दूसरे संस्करण का फाइनल मैच पाकिस्तान में खेला गया था। उस दौरान डैरेन सैमी ने पीएसएल टीम पेशावर जाल्मी का नेतृत्व किया था और टीम को खिताब भी दिलाने में अहम भूमिका निभाई थी। डैरेन सैमी से पहले कोई भी विदेशी खिलाड़ी पाकिस्तान में क्रिकेट खेलने के लिए तैयार नहीं था, लेकिन सैमी ने वहां गए और क्रिकेट खेली। 2009 में श्रीलंका की टीम बस पर हुए आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान में क्रिकेट बंद थी।

टीम के मालिक ने किया खुलासा

पाकिस्तानी मीडिया के मुताबिक, पेशावर जाल्मी टीम के मालिक जावेद अफरीदी ने कहा है, "डैरेन सैमी उनकी टीम के अभिन्न अंग है और उन्होंने पाकिस्तान की नागरिकता के लिए आवेदन किया है।" यहां तक कि खुद जावेद अफरीदी ने पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड से डैरेन सैमी की नागरिकता के मामले में मदद करने का अनुरोध किया है। ऐसे में पाकिस्तान उनको अपने यहां की नागरिकता(चाहे सम्मान के तौर पर दे) दे सकता है।

आपको बता दें, पाकिस्तान सुपर लीग (PSL) का पूरा सीजन इस बार पाकिस्तान में ही खेला जा रहा है। इससे पहले कुछ-कुछ मुकाबले पाकिस्तान में होते थे। उधर, वेस्टइंडीज की टीम को साल 2014 और साल 2018 में दो बार टी20 विश्व विजेता बनाने वाले कप्तान डैरेन सैमी इस बार पीएसएल के लिए सबसे पहले पाकिस्तान पहुंचे। इस बारे में डैरेन सैमी ने कहा, "मुझे पाकिस्तान आकर बहुत अच्छा लगा। मैं पिछली बार 2017 में पीएसएल फाइनल के लिए यहां आया था। मैं इस बार के पीएसएल को लेकर उत्साहित हूं। हर देश के क्रिकेट फैंस अपनी सरजमीं पर अंतरराष्ट्रीय मैच देखना चाहते हैं और पाकिस्तानी फैंस कई सालों तक इससे वंचित रहे हैं।"

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस