नई दिल्ली, जेएनएन। Cricket Player dies in Hyderabad: क्रिकेट के मैदान पर तमाम अप्रिय घटनाएं होती रहती हैं। कई बार किसी खिलाड़ी को चोट लग जाती है तो किसी दर्शक के साथ कुछ हादसा हो जाता है। यहां तक कई खिलाड़ी मौत के मुंह में जा चुके हैं। ऐसा ही एक और वाक्या सामने आया है हैदराबाद से, जहां क्लब स्तर पर खेले जा रहे एक मैच में अंपायर के गलत फैसले के बाद एक क्रिकेटर को दिल का दौरा पड़ा और उसकी मौत हो गई।

हैदराबाद में हुई इस दुखद घटना ने सभी को हैरान कर दिया है। दरअसल, हैदराबाद में एक क्लब क्रिकेट मैच के दौरान 41 वर्षीय बल्लेबाज वीरेंद्र नाइक मारडपल्ली स्पोर्टिंग क्लब की ओर से खेल रहे थे। रविवार को वीरेंद्र नाइक ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए अपना अर्द्धशतक बनाया, लेकिन कुछ ही देर बात अंपायर ने उन्हें आउट दे दिया। अंपायर के फैसले पर नाराजगी जताते हुए वे पवेलियन तो लौट गए, लेकिन उसी दौरान उनको अटैक पड़ा और उनकी मौत हो गई।

ये है पूरा मामला

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो वीरेंद्र नाइक इस वनडे मैच में 66 रन बनाकर बल्लेबाजी कर रहे थे। इसी दौरान विपक्षी टीम के गेंदबाज और विकेटकीपर ने अंपायर से अपील की तो अंपायर ने वीरेंद्र नाइक को कैच आउट दे दिया, लेकिन वीरेंद्र नाइक अंपायर के इस फैसले से खुश नहीं थे। वीरेंद्र नाइक का दावा था कि गेंद ने बल्ले का किनारा नहीं लिया है और अंपायर ने किसी अन्य आवाज को सुनकर उन्हें कैच आउट दे दिया है।

नईदुनिया की रिपोर्ट में लिखा हुआ है कि वीरेंद्र नाइक निराश होकर पवेलियन लौट चुके थे। इसी दौरान उनका सिर दीवार से टकराया और वे गिर पड़े। बताया जा रहा है कि उनको दिल का दौरा पड़ा था, जिससे वे दीवार से टकराए थे। हालांकि, साथी खिलाड़ी उन्हें लेकर तुरंत सिकंदराबाद के यशोदा अस्पताल ले गए, लेकिन डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। उधर, वीरेंद्र के भाई अविनाश ने पुलिस को बताया कि वीरेंद्र ह्रदय रोग से पीड़ित थे और उनकी इलाज चल रहा था।

Posted By: Vikash Gaur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप