नई दिल्ली, जेएनएन। श्रीलंकाई टीम ने आखिरी समय पर पाकिस्तान जाने के मना कर दिया। ऐसे में श्रीलंकाई क्रिकेट बोर्ड ने पाकिस्तान दौरा रद कर दिया। श्रीलंका क्रिकेट बोर्ड ने पाकिस्तान दौरे पर जाने से इसलिए भी मना किया है क्योंकि उनको आतंकी हमले की धमकी मिली थी। साल 2009 में भी पाकिस्तान टीम पर लाहौर में हमला हो चुका है। बावजूद इसके एक और देश पाकिस्तान जाने का मन बना रहा है। 

दरअसल, क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया(CA) के चीफ एग्जक्यूटिव केविन रोबर्ट्स ने उम्मीद जताई है कि ऑस्ट्रेलियाई टीम साल 2022 में पाकिस्तान के दौरे पर जाएगी। केविन रोबर्ट्स और ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट बोर्ड के सिक्यूरिटी हेड सीन केरोल ने हाल ही में पाकिस्तान का दौरा किया था, जिसमें उन्होंने लाहौर में पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड के अधिकारियों से मीटिंग की थी तीन साल बाद होने वाले दौर पर बात की थी।  

दोनों बोर्ड के अधिकारियों के बीच हुई बैठक

क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया और पीसीबी के अधिकारियों के बीच हाई लेवल मीटिंग हुई। इसी मीटिंग में तय हुआ है कि ऑस्ट्रेलिया टीम दो दशक के बाद पाकिस्तान दौरे पर जा सकती है। ऑस्ट्रेलियन मीडिया से बात करते हुए केविन रोबर्ट्स ने बताया है कि सुरक्षा के लिहाज से पाकिस्तान के पास अभी दो साल का समय है कि वे यहां सुरक्षा व्यवस्था को दुरुस्त कर ले, जिससे के खिलाड़ियों और सपोर्ट स्टाफ की सेफ्टी रहे।  

ये भी पढ़ेंः ICC ने किया विराट कोहली की महानता का बखान तो शाहिद अफरीदी ने किया ये ट्वीट

रोबर्ट्स ने कहा है, "हम इस दौरे के लिए जल्दबाजी नहीं करना चाहते। चीजें सही दिशा में जा रही हैं। हम बख्तरबंद गाड़ियों में यात्रा कर रहे थे, जिसमें हमारे साथ पुलिस की एस्कोर्ट भी शामिल थे। हमने वहां काफी सुरक्षित महसूस किया, लेकिन अभी भी सुरक्षा को लेकर वहां बहुत कुछ होना है। हमें उम्मीद है कि 2022 तक हालात अच्छे होंगे।"  

ऑस्ट्रेलियाई टीम पाकिस्तान के साथ उसी की सरजमीं पर दो टेस्ट, तीन वनडे और तीन टी20 मैचों की सीरीज 2022 में खेलना चाहती है। इसके लिए पीसीबी और सीए में बात चल रही हैं। आपको बता दें, ऑस्ट्रेलियाई टीम आखिरी बार साल 1998 में पाकिस्तान के दौरे पर गई थी। इसके बाद से कंगारू टीम कभी पाकिस्तान खेलने नहीं गई है। दोनों देशों के बीच दुबई में या फिर ऑस्ट्रेलिया में सीरीज होती हैं। 

Posted By: Vikash Gaur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप