नई दिल्ली, आइएएनएस। सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त प्रशासकों की समिति (सीओए) ने दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) के अध्यक्ष रजत शर्मा से डीडीसीए के निदेशकों द्वारा की गई शिकायतों का जवाब मांगा है। डीडीसीए के निदेशकों ने समिति से संघ के कामकाज को लेकर शिकायत दर्ज कराई थी। बोर्ड के अधिकारी ने बताया कि सीओए ने डीडीसीए के निदेशकों और सदस्यों से मिली शिकायतों के बाद शर्मा को पत्र लिखा था लेकिन उसका जवाब अभी तक नहीं आया है।

अधिकारी ने कहा कि सीओए ने शर्मा को एक पत्र लिखा है जिसमें डीडीसीए के निदेशकों और सदस्यों द्वारा दाखिल की गई शिकायतों को लेकर पूछा गया है। उनसे कामकाज को लेकर चल रही स्थिति के बारे में पूछा गया है। किसी भी राज्य संघ में अगर कोई समस्या होती है तो सीओए उस संबंध में पत्र लिखती है तो संघ उसका जवाब देता है, लेकिन डीडीसीए ने इसका जवाब नहीं दिया है जबकि उनको मेल 20 सिंतबर को भेजा गया था।

डीडीसीए के निदेशक संजय भारद्वाज ने सीओए को नौ सिंतबर को पत्र लिखा था और कहा था कि सीओए डीडीसीए को सुप्रीम कोर्ट के आदेश को नजरअंदाज कर संविधान बनाने देने की इजाजत दे कोर्ट के आदेश का उल्लंघन कर रही है। उन्होंने लिखा था कि सबसे बड़ी खामी बीसीसीआइ में डीडीसीए का प्रतिनिधि नियुक्त करने को लेकर है। बीसीसीआइ में डीडीसीए के प्रतिनिधि का नाम संघ की आम सभा में पारित होता है, लेकिन इसे शीर्ष परिषद ने मंजूरी दी जिसके पास इसके अधिकार नहीं हैं। इसको लेकर डीडीसीए के सचिव विनोद तिहारा भी सीओए और न्यायमित्र से शिकायत कर चुके हैं।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sanjay Savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस