नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। चेतेश्वर पुजारा ने अपने काउंटी क्रिकेट की शुरुआत धमाकेदार अंदाज में की है। उन्होंने अपने पहले मैच के दूसरी पारी में ससेक्स की तरफ से खेलते हुए शानदार शतक लगाया। उनका फर्स्ट क्लास में ये शतक दो साल के लंबे इंतजार के बाद आया है। डर्बीशायर के खिलाफ मैच में फालोओन को मजबूर हुई ससेक्स की टीम से खेलते हुए पुजारा ने 237 गेंदों पर सेंचुरी पूरी की। ये उनका 51वां फर्स्ट क्लास सेंचुरी है। उनका पिछला शतक 2020 में कर्नाटक के खिलाफ सौराष्ट्र से खेलते हुए आया था। उनके अंतर्राष्ट्रीय टेस्ट शतक की बात करें तो उनके बल्ले से आखिरी शतक जनवरी 2019 में आस्ट्रेलिया के खिलाफ सिडनी में आया था।

पिछले कुछ समय से उनका प्रदर्शन ठीक नहीं चल रहा था यही कारण है कि उन्हें फरवरी में श्रीलंका के खिलाफ सीरीज में मौका नहीं मिला। रणजी ट्राफी में उनके हालिया प्रदर्शन की बात करें तो उन्होंने 2021-22 सीजन में 5 इनिंग्स में उन्होंने 47.75 की औसत से 191 रन बनाए थे। यही वजह थी कि उन्होंने अपनी बल्लेबाजी को बेहतर करने के लिए काउंटी क्रिकेट का रुख किया जहां उनके बल्ले से दो साल के लंबे इंतजार के बाद शतक निकला।

पहली इनिंग में फ्लाप रहे थे पुजारा

हालांकि पहली इनिंग में चेतेश्व पुजारा पूरी तरह से फ्लाप रहे थे। पहली इनिंग में उन्होंने 15 गेंदों पर 6 रन की पारी खेली थी। लेकिन जब ससेक्स की टीम डर्बीशायर के 508 रन के जवाब में फालोओन खेलने पर मजबूर हुई तो पुजारा के बल्ले से ये शतक निकला।

Edited By: Sameer Thakur

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट