नई दिल्ली, जेएनएन। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने मंगलवार 4 मई को एक बड़ा फैसला लेते हुए इंडियन प्रीमियर लीग के मौजूदा सीजन को अनिश्चितकाल के लिए स्थगित कर दिया। एक के बाद एक लगातार कोरोना से खिलाड़ियों के संक्रमित होने की खबरों के बीच बोर्ड के यह मुश्किल फैसला लेने पर विचार करना पड़ा। सोमवार को कोलकाता नाइटराइडर्स के वरुण चक्रवर्ती और संदीप वॉरियर कोरोना पॉजिटिव पाए गए थे।

मंगलवार को भी सनराइजर्स हैदराबाद के विकेटकीपर रिद्धिमान साहा और दिल्ली कैपिटल्स के स्पिनर अमित मिश्रा की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। बीसीसीआई ने मंगलवार को बताया, इंडियन प्रीमियर लीग की गवर्निंग काउंसिल और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड ने आपातकाल बैठक में इस बात आम सहमति बनी। हम सभी ने आइपीएल 2021 के इस सीजन के तत्काल प्रभाव से स्थगित करने का फैसला लिया है।

सभी अपने घर लौट जाएंगे

बीसीसीआइ खिलाड़ियों को सपोर्ट स्टाफ या और भी जो लोग इस टूर्नामेंट के आयोजन से जुड़े रहे के सुरक्षा को लेकर किसी तरह से कोई समझौता नहीं कर सका। यह फैसला सभी के सुरक्षा, स्वास्थ और उनकी बेहतरी को ध्यान में रखते हुए लिया गया है। यह बहुत ही मुश्किल वक्त है, खासकर भारत में और हमने ऐसे वक्त में हमने लोगों में कुछ सकारात्मकता और उत्साह भरने की कोशिश की। लेकिन अब इस टूर्नामेंट को स्थगित करने का फैसला लिया गया है। इसमें शामिल सभी लोग अब घर लौट जाएंगे अपने परिवार और करीबी जनों के पास। ताकि इस परिक्षा की घड़ी में वह अपनों के साथ रह सके।

जितने भी खिलाड़ी और कोचिंग स्टाफ बायो बबल में थे उन सभी का कोरोना टेस्ट कराया जाएगा। रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद ही उनको घर जाने की इजाजत होगी। बोर्ड इस बात को पक्का करेगी कि बायो बबल से निकलने के बाद घर लौटने वाले खिलाड़ी को वहां जाकर किसी तरह की कोई परेशानी नहीं हो।

9 अप्रैल से इस टूर्नामेंट की शुरुआत की गई थी, जिसका फाइनल मैच 30 मई को खेला जाना था। कुल 29 मुकाबले खेले जाने के बाद बीसीसीआइ को 3 मई को कोलकाता के खिलाड़ी को कोरोना पॉजिटिव होने की खबर मिली। इसके बाद रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के साथ होने वाले उनके मुकाबले को स्थगित करने का फैसला लिया गया। एक दिन बाद कोरोना के एक दो और मामले सामने आने के बाद टूर्नामेंट ही स्थगित कर दिया गया।

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप