नई दिल्ली, प्रेट्र। ICC U19 World Cup 2020: पहली बार अंडर-19 विश्व कप चैंपियन बनने वाली बांग्लादेश की युवा टीम अब तक अपने शानदार खेल से ज्यादा जीत के बाद मनाए गए जश्न से सुर्खियों में है। विश्व कप खत्म हुए एक सप्ताह हो गया है। अब मैच के बाद दोनों टीमों के खिलाड़ियों के बीच हुए हंगामे की असली वजह सामने आ गई है। इस मैच में बांग्लादेश की जीत के स्टार रहे शोरिफुल इस्लाम ने टीम के उत्तेजक जश्न की वजह का रहस्योद्घाटन किया है।

बता दें भारत और बांग्लादेश की युवा टीमों के बीच दक्षिण अफ्रीका के सेनवेस पार्क में खेले गए इस खिताबी मुकाबले में टीम इंडिया पहले बल्लेबाजी करते हुए बांग्लादेश के सामने 178 रन का लक्ष्य रखा था। भारतीय टीम ने खेल के दूसरे हाफ में रवि बिश्नोई (4/30) की शानदार गेंदबाजी के दम पर मैच को रोमांचक बना दिया था, लेकिन अंत में बारिश से प्रभावित इस मैच बांग्लादेश ने तीन विकेट से अपने नाम कर लिया।

इसके बाद बांग्लादेश ने अपनी जीत का जश्न बेहद उत्तेजक ढंग से मनाया और जश्न में डूबे उसके कुछ खिलाड़ी मैदान पर जाकर भारतीय खिलाड़ियों से भिड़ पडे़। मैच के बाद बांग्लादेश के कप्तान अकबर अली ने भी इस घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया। भारतीय कप्तान प्रियम गर्ग ने तो जश्न के इस ढंग को भद्दा तक कह दिया। खिलाड़ियों के इस अभद्र व्यवहार के चलते आइसीसी ने अपने कोड ऑफ कंडक्ट के उल्लंघन में दोनों टीमों के (दो भारतीय और तीन बांग्लादेशी) खिलाड़ियों को दोषी पाया और इन पर जुर्माने के रूप में डिमेरिट अंक लगाए। आइसीसी ने इस मामले में भारत के आकाश सिंह और रवि बिश्नोई के अलावा बांग्लादेश के तौहीद हृदय, शमीम हुसैन और रकिबुल हसन को दोषी पाया है।

बांग्लादेश की जीत के स्टार रहे शोरिफुल इस्लाम ने अब अपने जश्न के ढंग की वजह को बताया है। इस युवा खिलाड़ी ने बताया कि भारत के खिलाफ जीत दर्ज करने की बड़ी वजह यह थी कि हम उसके खिलाड़ियों को यह बताना चाहते थे कि जब कोई टीम फाइनल में हारती है और दूसरी टीम के खिलाड़ी उसके सामने ऐसा ही जश्न मनाते हैं तो हारने वाली टीम को कैसा महसूस होता है।

शोरिफुल इस्लाम ने बताया कि भारत की इस टीम ने हमसे दो बार बड़े-बड़े मुकाबले जीते और उसने हमारे साथ ऐसा ही किया था। हम अतीत में उनसे दो करीबी मुकाबले हारे थे। पहला एशिया कप सेमीफाइनल था (साल 2018) और फिर एशिया कप फाइनल (2019 में)। मैं बता नहीं सकता कि वे दो हार कैसी महसूस होती थीं। जब मैं फाइनल (विश्व कप फाइनल) में उतरा, तो मैं यही सोच रहा था कि उन्होंने जीतने के बाद क्या किया था और हमने हारकर कैसा महसूस हुआ था। इस बार हम वैसा ही नहीं होने देना चाहते थे जो पहले दो बार हो चुका था। हम अपना सर्वश्रेष्ठ देना चाहते और अपनी पूरी ताकत के साथ अंतिम बॉल तक लड़ना चाहते थे।

बता दें शोरिफुल इस्लाम इस मैच में 10 ओवर फेंककर 31 रन देकर 2 विकेट अपने नाम किए। इस्लाम ने भारतीय टीम पर पहली ही गेंद से दबाव बनाने रणनीति अपनाई थी और अपनी अच्छी गेंदबाजी के साथ-साथ वह मैच की शुरुआत से भारतीय खिलाड़ियों के साथ स्लेजिंग भी कर रहे थे।

ये भी पढ़ें:-

U19 वर्ल्ड कप का शर्मनाक अंत! भारतीय कप्तान बोले- बांग्लादेशी खिलाड़ियों का रिएक्शन गंदा था

भारत U19 टीम के तेज गेंदबाज कार्तिक त्यागी ने किया खुलासा, बांग्लादेशी खिलाडि़यों ने किए थे भद्दे कमेंट

Posted By: Sanjay Pokhriyal

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस