नई दिल्ली, जेएनएन। ऑस्ट्रेलिया के पूर्व तेज गेंदबाज मिचेल जॉनसन ने क्रिकेट के सभी प्रारूप से संन्यास की घोषणा कर दी है, इसका मतलब है कि वह अब आइपीएल में भी नहीं खेलते दिखाई देंगे। जॉनसन ने संन्यास की घोषणा करते हुए कहा कि मुझे उम्मीद थी कि मैं अगले साल तक अलग अलग देशों में होने वाली टी-20 में खेल सकता हूं लेकिन सच तो ये हैं कि मेरा शरीर में साथ नहीं दे रहा है। इस साल आइपीएल के दौरान भी मुझे पीठ दर्द की समस्या से जूझना पड़ा था।

जॉनसन ने कहा कि मैं जब भी क्रिकेट खेला हूं मैंने अपना 100 फीसदी दिया है और अब जब मेरा शरीर मेरा साथ नहीं दे रहा है तो मैं क्रिकेट छोड़ रहा हूं। ऑस्ट्रेलिया के इस तेज गेंदबाज ने कहा कि मैंने अपना आखिरी ओवर, आखिरी गेंद डाल ली है और मैं आखिरी विकेट ले चुका हूं।

पिछले महीनें ही 37 साल के इस गेंदबाज ने ऑस्ट्रेलिया की टी-20 लीग बिग बैश से संन्यास लिया था। जॉनसन पिछले दो साल से पर्थ स्कॉचर्स के मुख्य गेंदबाज थे। वहीं इस साल वह आइपीएल में कोलकाता नाइट राइडर्स की तरफ से खेलते दिखाई दिए थे।

ऑस्ट्रेलिया के इस तेज गेंदबाज ने पर्थ की तरफ से खेलते हुए 19 मैच में 20 विकेट लिए हैं। वह भी 22.75 की शानदार औसत से। पर्थ की तरफ से उन्होंने अपना आखिरी मैच पिछले साल खेला था। इस साल की शुरुआत में पाकिस्तान क्रिकेट लीग से भी अलग होने का फैसला किया था। इस तेज गेंदबाज ने साल 2015 में इंटरनेशनल और प्रथम श्रेणी क्रिकेट को अलविदा कह दिया था। 

साल 2005 में अपने इंटरनेशनल क्रिकेट का आगाज करने वाले जॉनसन ने 153 वनडे में 239 विकेट लिए हैं। वह भी 26 से कम की औसत से। इसके अलावा 73 टेस्ट मैच में 313 विकेट भी उनके नाम दर्ज है। जॉनसन गेंदबाजी के अलावा ठीक-ठाक बल्लेबाजी भी कर लेते थे। टेस्ट में उन्होंने 1 शतक और 11 अर्धशतक लगाए हैं।

2013-14 में खेली गई एशेज सीरीज में जॉनसन ने कहर ढाया था। उस सीरीज में उन्होंने अपने दम पर इंग्लैंड को चित कर दिया था। उस एशेज में जॉनसन ने पांच टेस्ट में उन्होंने कुल 37 विकेट निकाले थे और अपनी टीम को इंग्लैंड पर 5-0 की धमाकेदार जीत दिलाई थी।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें 

 

Posted By: Lakshya Sharma

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप