नई दिल्ली, एंजेसी। दुनियाभर में फैले कोरोना वायरस ने तमाम खेल टूर्नामेंट और द्विपक्षीय सीरीजों को अपनी चपेट में ले लिया है। तमाम क्रिकेट टूर्नामेंट और द्विपक्षीय सीरीज रद या स्थगित हो गई हैं। इसके बाद अब इस महामारी की चपेट में एशिया कप 2020 भी आता दिखाई दे रहा है, क्योंकि एशियन क्रिकेट काउंसिल यानी एसीसी की मीटिंग कोविड 19 की वजह से अनिश्चितल के लिए स्थगित हो गई है।

बता दें कि एशिया कप एशियन क्रिकेट काउंसिल (ACC) कराती है। एशिया कप के अगले सीजन के लिए बोर्ड को मीटिंग करनी थी कि ये टूर्नामेंट इस बार कब और कहां खेला जाएगा। एशियन क्रिकेट काउंसिल ने पहले तय किया था कि एशिया कप 2020 सितंबर के महीने में होगा, लेकिन मौजूदा हालातों को देखकर ऐसा नहीं लग रहा है कि ये टूर्नामेंट इस बार समय पर आयोजित हो पाएगा।

पीसीबी के पास है एशिया कप 2020 की मेजबानी

पाकिस्तान के पास इस साल के एशिया कप की मेजबानी है, लेकिन भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड यानी बीसीसीआइ ने साफ इंकार कर दिया है कि भारतीय खिलाड़ी किसी भी कीमत पर पाकिस्तान नहीं जाएंगे। ऐसे में पीसीबी और एसीसी को भारत के इस फैसले के आगे झुकना पड़ेगा। ऐसे में एसीसी और पीसीबी के पास दो विकल्प बचत हैं, जिनमें एक है कि भारत एशिया कप हिस्सा नहीं हो तो टूर्नामेंट पाकिस्तान में खेला जा सकता है। अगर भारत हिस्सा होता है तो फिर ये टूर्नामेंट न्यूट्रल वेन्यू जैसे कि दुबई में खेला जा सकता है।

इन्हीं कुछ मुद्दों और एशिया कप 2020 की डेट को लेकर 29 मार्च को एशियन क्रिकेट काउंसिल की मीटिंग होनी थी, जिसे अब स्थगित किया गया है। मीटिंग से पहले बीसीसीआइ के अध्यक्ष सौरव गांगुली ने भी कहा था कि भारतीय टीम पाकिस्तान के खिलाफ खेलने के लिए तैयार है, लेकिन मुकाबला न्यूट्रल वेन्यू पर होना चाहिए। ऐसे में पीसीबी के लिए ये किसी झटके से कम नहीं था, क्योंकि बोर्ड चाहता कि पाकिस्तान में अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की पूरी तरह से वापसी हो। ऐसे में पीटीआइ के अनुसार सूत्रों ने कहा है कि पाकिस्तान एशिया कप के कुछ मुकाबले अपनी सरजमीं पर कराना चाहता है।

Posted By: Vikash Gaur

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस