नई दिल्ली। अमित मिश्रा का मानना है कि सीनियर खिलाड़ियों के लिए महत्वपूर्ण है कि वह अपने प्रदर्शन से जवाब दें और वह भी ऐसा ही करना चाहते हैं जिससे कि जूनियर खिलाड़ी उनकी राह पर चल सकें।

न्यूजीलैंड के खिलाफ शनिवार को खत्म हुई पांच मैचों की वनडे सीरीज में 18 विकेट चटकाने वाले मिश्रा खुश हैं कि वह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के अपने अनुभव और समझ को जयंत यादव और अक्षर पटेल जैसे युवा खिलाड़ियों के साथ साझा कर सकते हैं। मिश्रा ने कहा, ‘सीनियर गेंदबाज होने के नाते मुझे टीम के युवाओं के साथ बात करने और अपने अनुभव साझा करने का मौका मिलता है। आप अपने प्रदर्शन में सुधार करके ही उन्हें समझा सकते हैं। अगर आप अपने प्रदर्शन में सुधार करते हो तो वे प्रेरित होते हैं और जो आप कहते हो उस पर काम करते हैं।’

तीन टेस्ट की सीरीज के दौरान प्लेइंग इलेवन में जगह बनाने में नाकाम रहे मिश्रा ने कहा, ‘इस सीरीज में मैंने हमेशा विकेट हासिल करने की कोशिश की। हां, मैंने स्थिति के अनुसार गेंदबाजी की, लेकिन मेरा लक्ष्य विकेट चटकाना था। अगर आप रन रोकने की ही कोशिश करोगे तो आपके खिलाफ रन बनेंगे ही।’ मिश्रा ने टीम में काफी युवाओं की मौजूदगी को देखते हुए इस जीत को महत्वपूर्ण करार दिया।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें
खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Pradeep Sehgal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप