नई दिल्ली, जेएनएन। टीम इंडिया के पूर्व ओपनिंग बल्लेबाज़ वीरेंद्र सहवाग के डीडीसीए के इस्तीफे देने के बादहाल ही में क्रिकेट को अलविदा कहने वाले पूर्व तेज गेंदबाज परविंदर अवाना को आगामी रणजी सीजन के लिए दिल्ली की टीम का गेंदबाजी कोच नियुक्त किया गया है।

पवाना को इससे पहले राज्य की जूनियर चयन समिति में शामिल किया गया था। अब इस समिति में पूर्व तेज गेंदबाज चेतन शर्मा अवाना का स्थान लेंगे।

दिल्ली एवं जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) द्वारा जारी बयान में कहा गया है, 'परविंदर अवाना ने जूनियर चयन समिति से इस्तीफा दे दिया है। उनके इस्तीफे को स्वीकार कर लिया गया है और उनके स्थान पर चेतन शर्मा को जूनियर चयन समिति में शामिल किया गया है।'

बयान के मुताबिक, 'पुरुष चयन समिति की सिफारिश पर अमल करते हुए परविंदर अवाना को रणजी ट्रॉफी के लिए टीम का गेंदबाजी कोच नियुक्त किया गया है।'

इससे पहले, सोमवार को भारतीय टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने डीडीसीए क्रिकेट समिति से इस्तीफा दे दिया था। सहवाग के साथ ही आकाश चोपड़ा और राहुल सांघवी ने भी समिति से इस्तीफा दे दिया है।

इस क्रिकेट कमेटी को डीडीसीए अध्यक्ष रजत शर्मा द्वारा नियुक्त किया गया था और सहवाग, चोपड़ा और सांघवी के लिए पहला काम विभिन्न चयन समितियों और कोचों का सेलेक्शन करना था। इसी काम को करते हुए सहवाग ने समिति के अन्य सदस्यों आकाश चोपड़ा और राहुल सांघवी के साथ मिलकर मनोज प्रभाकर को बतौर गेंदबाज़ी कोच दिल्ली की टीम के साथ बनाए रखने की सिफारिश की थी, लेकिन इसे स्वीकृति नहीं मिली। इसके बाद इन तीनों ही पूर्व खिलाड़ियों ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था।

ऐसी भी खबरें थी कि दिल्ली के कप्तान गौतम गंभीर प्रभाकर की नियुक्ति के खिलाफ थे क्योंकि उन्हें सन 2000 मैच फिक्सिंग घोटाले में नामित किया गया था। डीडीसीए के एक अधिकारी ने नाम न छापने की शर्त पर कहा, 'गौतम ने हमेशा ही नियमों का पालन किया है। वह नहीं चाहता कि कोई भी ऐसा व्यक्ति दिल्ली ड्रेसिंग रूम का हिस्सा बनें जिसका नाम मैच फिक्सिंग या अन्य किसी गलत कार्य में लिप्त हो।'

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Pradeep Sehgal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप