(शास्त्री का कॉलम)

टी-20 खेल बड़ा ही निर्दयी है। इस प्रारूप में कभी भी कुछ भी हो सकता है। शुक्रवार की रात भी ऐसी ही अनिश्चितताओं से भरी हुई थी। बेंगलुरु और हैदराबाद के बीच उस रात खेले गए मैच कई उतार-चढ़ाव देखने को मिले। टॉस के बाद हैदराबाद बल्लेबाजी को उतरती इससे पहले बारिश आ गई। बारिश के बाद जब खेल शुरू हुआ तो वार्नर-हेनरिक्स ने रनों की बरसात कर दी। इस दौरान बेंगलुरु ने कई कैच भी टपकाए। पारी खत्म होते ही एक बार फिर बारिश आ गई। बेंगलुरु के सामने संशोधित करके बेहद ही कड़ा लक्ष्य रखा गया। कप्तान के भरोसेमंद गेंदबाज स्टेन और भुवी शुरुआत में ही धुल गए। आखिर में कोहली का कैच लपक लिया गया, लेकिन वह आउट नहीं हुए। कैच छक्के में बदल गया। बेंगलुरु की उम्मीद बरकरार रही।

जो तटस्थ है वह चाहेगा कि ये दोनों टीमें अंतिम चार में पहुंचे। अब देखना है कि रविवार को होने वाले अंतिम लीग मुकाबलों में इन दोनों का प्रदर्शन कैसा रहता है। हैदराबाद के सामने मुंबई इंडियंस जैसा मजबूत प्रतिद्वंद्वी है। जबकि बेंगलुरु के लिए बारिश एक बार फिर मुसीबत पैदा कर सकती है। सत्र में उसके साथ ऐसा चार बार हो चुका है और रविवार को भी यह बारिश उसका सारा खेल बिगाड़ सकती है।

प्रशंसकों के लिए लीग चरण का अंतिम चरण रहस्यों से भरा हुआ है। ज्यादा माथा-पच्ची न करते हुए हमें सबकुछ वक्त पर छोड़ देना चाहिए। हम खिलाडि़यों को कोशिश करते आखिरी गेंद तक देखेंगे। कुछ और घंटों में प्लेऑफ की तस्वीर साफ हो जाएगी और एलिमिनेटर का सभी को इंतजार रहेगा।

आइपीएल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: sanjay savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस