(सौरव गांगुली का कॉलम)

भारत-इंग्लैंड सीरीज के पहले टेस्ट ने एक बार फिर साबित किया कि यह फॉर्मेट किसी भी क्रिकेटर के लिए सबसे बड़ी परीक्षा क्यों है। मुकाबले के लिए इससे अच्छी बात क्या हो सकती है कि नतीजे की सुई कभी इधर तो कभी उधर घूम रही थी। अंत में वही टीम जीती जिसने उत्साह को बनाए रखा और जब जरूरत हुई तब उसने कर दिखाया।

कोहली ने साबित किया खुद को 'विराट'

विराट कोहली द्वारा दृढ़ विश्वास और दृढ़ संकल्प के साथ मुश्किल हालातों का अध्ययन करना, उनके शॉट्स का चयन और हर मैच में उनका गेंदबाजों पर हावी होना असाधारण है। सही मायने में वह दुनिया के नंबर एक बल्लेबाज हैं। बर्मिघम में बेशक वह धारा प्रवाह बल्लेबाजी नहीं कर पाए लेकिन हार ना मानने के उनके स्वभाव ने उन्हें ऊपर बनाए रखा। यह बल्लेबाजी कला का भी एक उदाहरण है। भले ही वह आपका दिन ना हो लेकिन आप रन बनाते हैं। यह एक बड़ा उदाहरण है जिसे टीम को भी अपनाने की जरूरत है। मुझे पूरा विश्वास है कि इस बल्लेबाजी क्रम के पास ऐसी परिस्थितियों में रन बनाने की क्षमता है। विराट को टीम के साथ आगे बढ़ना होगा। विश्वास वापस पाने की जरूरत है। उन्हें अपने दिमाग में रखना होगा कि इस दौरे पर उनके लिए यह चुनौती है। भारत के लिए अच्छी बात यह है कि उसके गेंदबाज अच्छी लय में हैं।

अश्विन फिर करेंगे इंग्लैंड को परेशान

सभी गेंदबाजों ने बढ़िया खेल दिखाया, खासतौर से अश्विन ने। उन्होंने अपनी गेंदबाजी में काफी विविधता दिखाई है और आगे भी वह विरोधी टीम के लिए एक बड़ा डर बने रहेंगे। मुझे याद है कि मैं अश्विन के बारे में इस सीरीज से पहले बात कर रहा था और जिस तरह से उन्होंने अपने आप को पेश किया है, उससे मुझे खुशी है। वह विदेशों में सफलता पाने के लिए जरूरी बातों को लेकर सचेत थे और जब से उन्हें टीम में अपनी जगह को लेकर युवाओं से चुनौती मिलने लगी तब से उन्होंने अपनी गेंदबाजी में सुधार किया। वह पूरी सीरीज में इंग्लैंड के नाक में दम करते रहेंगे।

पांच गेदबाज़ों के साथ उतरे भारत

दायें हाथ के ओलिवर पोप का चयन आर अश्विन के ऑफ स्पिन के खिलाफ जवाबी हमले के तौर पर इंग्लैंड के चयनकर्ताओं द्वारा किया गया है। भारत को लॉर्डस में दूसरे स्पिनर को खिलाने के बारे में सोचने की जरूरत है। वहां गर्मी है और इतिहास कहता है कि लॉर्डस में गेंद स्पिन होती है। जहां तक मेरा मानना है, कुलदीप यादव सही विकल्प होने चाहिए। भारत को पांच गेंदबाजों के साथ उतरना चाहिए। क्रिस वोक्स की वापसी इंग्लिश टीम में संतुलन बनाएगी।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें 

 

By Pradeep Sehgal