(गावस्कर का कॉलम)

पीसीबी अध्यक्ष शहरयार खान ने बीसीसीआइ अध्यक्ष जगमोहन डालमिया से मिलने के बाद घोषणा की है कि दोनों देशों के बीच फिर से क्रिकेट रिश्तों की शुरुआत हो सकती है। इस खबर ने कुछ हद तक आइपीएल की चमक को थोड़ा कम कर दिया, क्योंकि मीडिया ने इस बात को ज्यादा ही तवज्जो दी कि भारत को पाकिस्तान के खिलाफ खेलना चाहिए या नहीं। हालांकि कोई भी ठोस फैसला आने में अभी समय है, लेकिन पाकिस्तान से खेलने या नहीं खेलने को लेकर कुछ ज्यादा ही शोर मचा।

अगले महीने भारत को बांग्लादेश के खिलाफ खेलना है। एक टेस्ट मैच के अलावा वनडे और टी-20 सीरीज। मुझे हैरानी नहीं होगी अगर टीम इंडिया के कुछ खिलाड़ी इस दौरे से ब्रेक ले लें, क्योंकि कई खिलाड़ी पिछले साल नवंबर से लगातार खेल रहे हैं और उन्हें अपनी बैटरी रिचार्ज करने के लिए ब्रेक की जरूरत है ताकि जुलाई-अगस्त में श्रीलंका दौरे से पहले वे तरोताजा हो सकें। टेस्ट मैच में तो मुझे ज्यादा बदलाव होते नहीं दिख रहे, लेकिन वनडे सीरीज में बहुत सारे बदलाव की उम्मीद है। बहुत सारे शीर्ष खिलाड़ी पिछले छह महीने से आराम नहीं कर पाए हैं। पिछले साल इंग्लैंड दौरे से पहले भारत ने बांग्लादेश के लिए इसी तरह की टीम भेजी थी, जिसने बहुत ही आसानी से वनडे मैच जीत लिए थे। इसलिए इस बार भी चयनकर्ता युवा चेहरों को मौका देना चाहेंगे। बांग्लादेश ने निश्चित तौर पर विश्व कप में अच्छा खेल दिखाया था। हालांकि भारत को यह सुनिश्चित करना होगा कि वह सीरीज में लापरवाही न बरते।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: sanjay savern

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप