विश्व कप 2015 :

साल 2015 में विश्व कप का 11वां संस्करण खेला गया जिसकी मेजबानी न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया ने 14 फरवरी से 19 मार्च तक एक साथ की। माइकल क्लार्क की अगुआई में ऑस्ट्रेलिया की टीम फाइनल में न्यूजीलैंड को हराकर रिकॉर्ड पांचवीं बार विश्व चैंपियन बनी थी। इससे पहले उसने 1987, 1999, 2003 और 2007 में खिताबी ट्रॉफी अपने नाम की थी।

हमारा प्रदर्शन

भारतीय टीम ने ग्रुप स्तर के मुकाबलों में अपने अभियान का आगाज चिर प्रतिद्वंद्वी टीम पाकिस्तान को हराकर किया। दूसरी जीत दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मेलबर्न में आई। विश्व कप के इतिहास में दक्षिण अफ्रीका पर भारत की यह पहली जीत रही। भारत ने अपनी तीसरी और आसान जीत यूएई पर दर्ज की। इसके बाद वेस्टइंडीज को हराया तो पांचवें मैच में आयरलैंड को मात दी। भारत ने अपने आखिरी ग्रुप मैच में जिंबाब्वे को हराया।

रोहित के कैच पर बवाल : भारत और बांग्लादेश के बीच खेले गए क्वार्टर फाइनल में रोहित शर्मा को कैच आउट न देने के अंपायर के फैसले पर काफी विवाद हुआ। बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना ने अंपायर के निर्णय को टीम की हार का कारण माना। रोहित की 137 रन की पारी से भारत ने यह मैच जीता था।

पहला सेमीफाइनल जीता न्यूजीलैंड : पहले सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड ने दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ बारिश से बाधित मैच में 43 ओवरों में पांच विकेट पर 281 रन बनाए। जवाब में न्यूजीलैंड की टीम ने 42.5 ओवर में छह विकेट पर 299 रन बनाते हुए मैच अपने नाम किया। न्यूजीलैंड ने मैच को डकवर्थ लुइस नियम के आधार पर चार विकेट से जीतकर टूर्नामेंट के फाइनल में जगह बनाई।

ऑस्ट्रेलिया ने तोड़ी भारत की उम्मीदें : ऑस्ट्रेलिया ने दूसरे सेमीफाइनल में 50 ओवरों में सात विकेट पर 328 रनों का विशाल स्कोर खड़ा किया। बड़े लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम 46.5 ओवरों में 233 रनों पर ऑलआउट हो गई। ऑस्ट्रेलिया ने यह मैच 95 रनों से अपने नाम किया। इस तरह भारतीय टीम फाइनल में नहीं पहुंच पाई और उसका तीसरी बार वनडे विश्व कप जीतने का सपना टूट गया था।

कोहली और अनुष्का के खूब हुए चर्चे : ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सेमीफाइनल में भारतीयों को सबसे अधिक उम्मीदें विराट कोहली से थीं लेकिन उनके एक रन पर आउट होते ही पूरा देश गुस्से से लाल हो गया। इस विश्व कप के दौरान कोहली और उनकी गर्लफ्रेंड अनुष्का शर्मा सुर्खियों में रहे। अनुष्का टीम इंडिया के अधिकतर मैचों में मौजूद रहीं। टीम के हारने के बाद कोहली की खूब आलोचना हुई। सोशल मीडिया पर लोगों ने लिखा कि अनुष्का की वजह से विराट अपने खेल पर ध्यान नहीं लगा पा रहे थे और उनके आउट होने के बाद ही अनुष्का भी स्टेडियम से चली गईं थी। हालांकि अब दोनों पति-पत्नी हैं।

ऑस्ट्रेलिया फिर चैंपियन : न्यूजीलैंड की टीम ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खिताबी मुकाबले में 45 ओवरों में 183 रन ही बना सकी। जवाब में ऑस्ट्रेलिया 33.1 ओवरों में तीन विकेट पर 186 रन बनाकर फिर से चैंपियन बन गई।

गुप्टिल की रिकॉर्ड पारी : न्यूजीलैंड के मार्टिन गुप्टिल ने विश्व कप इतिहास की सबसे बड़ी पारी खेलने का रिकॉर्ड अपने नाम किया। उन्होंने वेस्टइंडीज के खिलाफ क्वार्टर फाइनल में 163 गेंदों 24 चौकों और 11 छक्कों की मदद से 237 रन की नाबाद पारी खेली। उनसे पहले वेस्टइंडीज के क्रिस गेल (215) विश्व कप में दोहरा शतक लगाने वाले पहले क्रिकेटर बने थे। उन्होंने जिंबाब्वे के खिलाफ ग्रुप चरण में ऐसा किया था।

- 14 टीमों ऑस्ट्रेलिया, भारत, वेस्टइंडीज, न्यूजीलैंड, पाकिस्तान, इंग्लैंड, श्रीलंका, जिंबाब्वे, दक्षिण अफ्रीका, बांग्लादेश, स्कॉटलैंड, यूएई, आयरलैंड और अफगानिस्तान ने टूर्नामेंट में भाग लिया था

- 06 लगातार विश्व कप के बाद भारतीय टीम पहली बार सचिन तेंदुलकर के बिना विश्व कप में खेली

- 1992 के बाद यह पहला विश्व कप था जब सचिन तेंदुलकर भारतीय टीम में नहीं थे।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Sanjay Savern

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप