नई दिल्ली, जेएनएन। World Cup 2019 इंग्लैंड में होने वाले विश्व कप में टीम इंडिया के ओपनर बल्लेबाज रोहित शर्मा पर तमाम क्रिकेट फैंस की नजरें टिकी रहेंगी। तीसरी बार विश्व कर जीतने का सपना देख रही भारतीय क्रिकेट टीम की भी यही चाहत होगी कि रोहित अपने बल्ले से धमाल करें और यकीन मानिए रोहित चले तो टीम इंडिया की बल्ले-बल्ले हो जाएगी। रोहित शर्मा अपने वनडे करियर में तीन दोहरा शतक लगा चुके हैं, पर विश्व कप में उनके नाम पर कोई भी दोहरा शतक नहीं है। विश्व कप के इतिहास में सिर्फ दो खिलाड़ियों ने अब तक ये कमाल किया है तो क्या रोहित इस बार भारत की तरफ से विश्व कप में दोहरा शतक लगाने वाले खिलाड़ी बन पाएंगे। 

गप्टिल और गेल ने विश्व कप में लगाए हैं दोहरा शतक

2015 में पहली बार विश्व कप के इतिहास में किसी बल्लेबाज ने दोहरा शतक लगाया। ये कमाल वेस्टइंडीज के क्रिस गेल ने किया था। गेल ने पिछले विश्व कप यानी 2015 में जिम्बाब्वे के खिलाफ कैनबरा में 215 रन की पारी खेली थी। ये वनडे विश्व कप इतिहास का बेस्ट व्यक्तिगत स्कोर था। पर ये रिकॉर्ड ज्यादा दिनों तक नहीं रह पाया और इसी टूर्नामेंट के दौरान न्यूजीलैंड के मार्टिन गप्टिल ने विश्व कप का दूसरा दोहरा शतक ठोक दिया। गप्टिल ने वेस्टइंडीज के खिलाफ वेलिंगटन में नाबाद 237 रन की पारी खेलकर एक नया इतिहास रच दिया। ये विश्व कप का सबसे बड़ा व्यक्तिगत स्कोर है। 

रोहित के नाम हैं तीन दोहरा शतक

रोहित शर्मा भारत के तीसरे ऐसे बल्लेबाज बने थे जिन्होंने विश्व कप में दोहरा शतक लगाया था। भारत की तरफ से ये कमाल सबसे पहले सचिन, फिर सहवाग और इसके बाद रोहित ने किया था। रोहित ने अपने वनडे करियर का पहला दोहरा शतक 2 नवंबर 2013 को बेंगलुरु में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ लगाया था और 209 रन की पारी खेली थी। इसके बाद उन्होंने ये कमाल 13 नवंबर 2014 में कोलकाता में श्रीलंका के खिलाफ किया था और 264 रन की पारी खेल दी थी। ये वनडे का बेस्ट व्यक्तिगत रिकॉर्ड है। इसके बाद रोहित ने 13 दिसंबर 2017 को मोहाली में अपना तीसरा दोहरा शतक लगाया और श्रीलंका के खिलाफ नाबाद 208 रन की पारी खेली थी। पिछले विश्व कप से पहले रोहित ने दो दोहरा शतक लगाया था,लेकिन वो वर्ष 2015 में ये कमाल नहीं कर पाए थे। पिछले विश्व कप में तो ये कमाल गेल और गप्टिल ने कर दिखाया पर इंग्लैंड में होने वाले विश्व कप में हम उम्मीद कर सकते हैं को रोहित गेल और गप्टिल की बराबरी कर पाएं या फिर उन्हें पीछे छोड़ दें। 

विश्व कप में गांगुली के नाम से बेस्ट व्यक्तिगत स्कोर

विश्व कप में भारत की तरफ से किसी मैच में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज सौरव गांगुली हैं। वर्ष 1999 में गांगुली ने टांटन में श्रीलंका के खिलाफ 183 रन की पारी खेली थी और पिछले 20 वर्ष में कोई भी भारतीय बल्लेबाज इस स्कोर के पार नहीं पहुंच पाया। 1999 के बाद विश्व कप में सिर्फ दो भारतीय खिलाड़ी ही 150 के स्कोर को पार कर पाए जिसमें सहवाग हैं जिन्होंने 2011 में ढ़ाका में बांग्लादेश के खिलाफ 175 रन की पारी खेली थी और कपिल की बराबरी की थी। वर्ष 2003 में सचिन ने नामिबिया के खिलाफ 152 रन की पारी खेली थी। ये सचिन का विश्व कप में बेस्ट स्कोर है। इस बार कहा जा रहा है कि विश्व कप में पिच ऐसी होगी कि 500 से ज्यादा का स्कोर भी बन सकता है। यानी वहां कि पिच पूरी तरह से बल्लेबाजों के अनुकूल रहेगी। ऐसे में उम्मीद की जा सकती है कि रोहित गांगुली के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ सकते हैं। वैसे वनडे में उन्होंने सात बार 150 का आंकड़ा पार किया है। विश्व कप में रोहित का बेस्ट स्कोर 137 रन है जो उन्होंने पिछले विश्व कप में बांग्लादेश के खिलाफ बनाए थे। वहीं धवन का बेस्ट स्कोर भी 137 रन है जो उन्होंने 2015 में दक्षिण अफ्रीका के विरुद्ध बनाए थे। 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Sanjay Savern