नई दिल्ली, जेएनएन। यूं तो मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर ने पहली बार कई दफा क्रिकेट के रिकॉर्ड अपने नाम किए लेकिन इस खेल से रिटायरमेंट के बाद एक और मामले में वह पहले शख्स बन गए हैं। सचिन के लिए महिला हज्जाम नेहा और ज्योति से 'पहली बार शेव' करवाना निश्चित रूप से गर्व का क्षण होगा। सचिन ने ऐसा करके भारत में प्रचलित लिंग रूढ़िवादिता को तोड़ने में अपना योगदान दिया।

उत्तर प्रदेश के बनवारी टोला गांव से आने वाली नेहा और ज्योति इस पेशे को उस वक्त अपनाया जब यहां पूरी तरह पुरुषों का दबदबा है। 2014 में पिता के बीमार होने के बाद नेहा और ज्याति ने उनका काम संभालने का फैसला किया। लेकिन इन दोनों के लिए यह सफर आसान नहीं था। कई बार उन्होंने छुप कर यह काम किया क्योंकि शुरू में पुरुष एक महिला से शेव और हेयरकट कराने के खिलाफ थे। 

जिलेट इंडिया के एड में उनकी प्रेरणात्मक कहानी को उजागर किया गया, जिसे लोग काफी पसंद कर रहे हैं। इस एड को यूट्यूब को 1.60 करोड़ लोगों ने देखा है। इसके बाद ही तेंदुलकर ने इन दोनों से दाढ़ी बनवाने का फैसला किया। तेंदुलकर ने फिर इसे इंस्टाग्राम पर पोस्ट किया। 

 

 

 

 

 

 

 

 

View this post on Instagram

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

A First for me! You may not know this, but I have never gotten a shave from someone else before. That record has been shattered today. Such an honour to meet the #BarbershopGirls and present them the @gilletteindia Scholarship. #ShavingStereotypes #DreamsDontDiscriminate

A post shared by Sachin Tendulkar (@sachintendulkar) on

सचिन ने लिखा, " आप यह नहीं जानते होंगे लेकिन मैंने आज से पहले कभी किसी और से शेव नहीं करवाया। लेकिन आज यह रिकॉर्ड भी टूट गया। इन #BarbershopGirls से मिलना मेरे लिए बेहद सम्मान की बात है।"

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Ruhee Parvez

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप