नई दिल्ली, भारत सिंह। कैरेबियन प्रीमियर लीग 2017 (सीपीएल) में इस समय दुनिया भर के खिलाड़ी धूम मचा रहे हैं। रविवार को बारबडोस ट्राइडेंट्स और सैंट किट्स एंड नेविस पैट्रियट्स के बीच एक मजेदार मैच देखने को मिला। 

आइपीएल की तर्ज पर होने वाली टी 20 लीग का यह मैच एक खास वजह से मजेदार बना। आइपीएल समेत दुनिया भर की टी 20 लीग के सबसे खतरनाक खिलाड़ी माने जाने वाले क्रिस गेल को उनसे 12 साल छोटे खिलाड़ी ने बल्लेबाजी के गुर सिखा दिए। 

 

एविन लेविस है इस खिलाड़ी का नाम

जी हां, यह खिलाड़ी कोई और नहीं, टी 20 क्रिकेट का नया बादशाह एविन लेविस है। लेविस ने बारबडोस के खिलाफ नाबाद 97 रनों की पारी खेलकर अपनी टीम को 10 से जीत दिलाने में मदद की। लेविस ने यह रन केवल 32 गेंदों में 6 चौके और 11 छक्कों की मदद से बनाए। इससे पहले बारबडोस की टीम 20 ओवर में केवल 128 रन ही बना सकी थी, जिसे लेविस की तूफानी बल्लेबाजी से सैंट किट्स एंड नेविस पैट्रियट्स ने केवल सात ओवरों में हासिल कर लिया। लेविस का स्ट्राइक रेट 303.12 का रहा। 

 

बेबस नजर आ रहे थे गेल

लेविस के साथ बल्लेबाजी करने उतरे गेल उनके सामने ऐसे बेबस नजर आ रहे थे कि उन्हें 14 गेंदों में 3 चौके और 1 छक्के की मदद से केवल 22 रन बनाने का ही मौका मिला। गेल ने वहाब रियाज के पहला ओवर की छह गेंदें अकेले खेलीं और इसमें दो चौके लगाए। हालांकि, इसके बाद उन्हें पूरे मैच में केवल आठ गेंदें खेलने का ही मौका मिला। 

 

एक पारी से बनाए गजब के रिकॉर्ड

लेविस ने 19 गेंदों में सीपीएल का सबसे तेज अर्धशतक जड़ने का रिकॉर्ड बनाया। उन्होंने इस सीजन में कॉलिन मुनरो और डेरेन सैमी का 23 गेंदों में अर्धशतक लगाने का रिकॉर्ड तोड़ा। लेविस की बल्लेबाजी से उनकी टीम सीपीएल में पावरप्ले में सबसे ज्यादा रन (6 ओवर में बिना विकेट खोए 105) बनाने वाली टीम भी बनी। अगर लेविस को एक और बाउंड्री लगाने का मौका मिल जाता तो वह सीपीएल के इतिहास का सबसे तेज शतक और टी 20 क्रिकेट का दूसरा सबसे तेज शतक बनाने का रिकॉर्ड बना सकते थे। हालांकि, लेविस ने सीपीएल में एक पारी में 11 छक्के लगाने के रिकॉर्ड की भी बराबरी की। 

 

कीरोन पोलार्ड ने की बदमाशी

लेविस को शतक से रोकने का काम उनके हमवतन और सीनियर क्रिकेटर कीरोन पोलार्ड ने किया। लेविस 97 रन पर खेल रहे थे और उनकी टीम को जीतने के लिए एक रन चाहिए था। लेविस को शतक बनाने के लिए एक बाउंड्री की दरकार थी और जिस अंदाज में वह खेल रहे थे, उन्हें देखकर लग रहा था कि वह ऐसा कर लेंगे। ऐसे में विपक्षी कप्तान पोलार्ड ने गेंद पकड़ी और नो बॉल करा दी। अगर वह नो बॉल नहीं भी होती तो उसे वाइड दिया जाता। इस तरह पोलार्ड ने जानबूझकर लेविस को रिकॉर्ड बनाने से रोक दिया। पोलार्ड के इस व्यवहार की काफी आलोचना भी हो रही है। 

 

गेल जैसा ही है लेविस का खेल

वेस्टइंडीज के इस युवा बल्लेबाज और क्रिस गेल में कई समानताएं हैं। दोनों ओपनिंग बल्लेबाज हैं और बाएं हाथ से बल्लेबाजी करते हैं। पिछले कुछ समय से उन्होंने वेस्टइंडीज की टीम में भी कमाल की बल्लेबाजी की है। वह गेल की तरह आक्रामक बल्लेबाजी और लंबे छक्के लगाने के लिए मशहूर हैं। लेविस के नाम 13 अंतरराष्ट्रीय टी 20 मैचों में दो शतक और एक अर्धशतक है और 69 टी 20 मैचों में तीन शतक और 15 अर्धशतक हैं। 

 

भारत से है जगजाहिर है 'दुश्मनी'

लेविस के नाम को भारतीय क्रिकेट प्रेमी भी नहीं भूल पाए होंगे। इसकी वजह है भारत के खिलाफ टी 20 मैचों में उनका प्रदर्शन। लेविस ने 2016 में अमेरिका में हुए मैच में भारत के खिलाफ 100 रन बनाकर अपनी टीम को जीत दिलाई थी। इसके बाद उन्होंने इसी साल यानी 2017 में वेस्टइंडीज में हुए मैच में भारत के खिलाफ नाबाद 125 रनों की पारी खेली थी और फिर से भारत की हार की वजह बने थे। उनके अंतरराष्ट्रीय टी 20 मैचों में दोनों शतक भारत के खिलाफ आए हैं। 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Bharat Singh