लंदन, प्रेट्र। कप्तान विराट कोहली ने बुधवार को भारतीय क्रिकेट के प्रशंसकों से कहा कि सिर्फ एक टेस्ट में उनकी टीम के खराब बल्लेबाजी प्रदर्शन के बाद उसकी आलोचना नहीं करें, क्योंकि समस्या तकनीक के बजाय मानसिक रूप से ज्यादा समन्वय बनाने की है।

दूसरे टेस्ट मैच से पहले हुई प्रेस वार्ता में कोहली ने कहा, 'हमें इतनी जल्दी फैसला नहीं करना चाहिए और एक टीम के रूप में निष्कर्ष पर नहीं पहुंचना चाहिए। हमें धैर्य रखना चाहिए। हम इतनी जल्दी फैसला नहीं करते। हमें कोई वजह (असफलता की) नजर नहीं आती। एक के बाद एक, लगातार विकेट गिरना चिंता की बात है। यह तकनीक का मामला नहीं है। यह मानसिक पहलू से ज्यादा जुड़ा हुआ है। इस बात की स्पष्ट योजना होनी चाहिए कि पहले 20-30 गेंदों का सामना कैसे करना है और अक्सर उस योजना में आक्रामकता शामिल नहीं होती है। वहां हमें आक्रामकता के बजाये मानसिक संतुलन को बनाए रखने की जरूरत होती है। बल्लेबाजी इकाई के रूप में हमने इस पर चर्चा की है।'

उन्होंने कहा, 'एक कप्तान के रूप में मैं जो कुछ भी कर सकता हूं, वो कर रहा हूं और इस पर प्रबंधन की ओर से निरंतर फीडबैक मिलता है। खेल को देखने का लोगों का अपना नजरिया होता है। मुझे लगता है कि मेरे सभी खिलाडि़यों के साथ वास्तव में अच्छा तालमेल है।' कोहली ने संकेत दिया कि रवींद्र जडेजा या कुलदीप यादव में से कोई दूसरा विशेषज्ञ स्पिनर हो सकता है, क्योंकि पिच की सतह सूखी नजर आ रही है।

उन्होंने कहा, 'यह आकर्षक लेकिन मुश्किल है। पिच काफी सख्त नजर आ रही है और सतह काफी सूखी है। पिछले दो महीनों से लंदन में काफी गर्मी पड़ रही है। यहां कुछ घास ढकी हुई नजर आ रही है और यह आमतौर पर विकेट को जोड़े रखने के लिए जरूरी होती है। मैदान पर दो स्पिनरों के साथ उतरना बेहद आकर्षक और मुश्किल भरा है, लेकिन टीम का संतुलन बनाए रखने के लिए हमें यह फैसला लेना होगा। हालांकि, दो स्पिनर निश्चित ही अंतिम एकादश में शामिल होंगे।'

'हम एजबेस्टन टेस्ट में जीते, लेकिन निश्चित रूप से कुछ ऐसे क्षेत्र हैं जहां हमें काम करने की जरूरत है। पहली पारी में हम तीन विकेट पर 216 रन के स्कोर पर थे और रूट और जॉनी बेयरस्टो अच्छा कर रहे थे, लेकिन हम इसे भुना नहीं सके। उसके बाद गेंदबाजी में हमने भारत के पांच विकेट 100 रन पर गिरा दिए थे, लेकिन उसके बाद हमने उन्हें अपने स्कोर के करीब पहुंचने दिया।'

-जोस बटलर, बल्लेबाज, इंग्लैंड

कुछ क्षेत्रों में हमें अभी सुधार की जरूरत : रूट

इंग्लैंड के कप्तान जो रूट ने कहा कि उतार-चढ़ाव से भरे पहले टेस्ट में जीत के बावजूद उनकी टीम ने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन नहीं किया और वह गुरुवार से लॉ‌र्ड्स में शुरू होने वाले टेस्ट में भारतीय चुनौती का सामना करने को लेकर उत्साहित हैं।

रूट ने कहा, 'यह (बर्मिघम में जीत) आपको आत्मविश्वास से भर देती है। पिछले हफ्ते हुई चीजों में सबसे ज्यादा उत्साहित करने वाली बात जो थी वह यह कि हमने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन नहीं किया। कुछ चुनिंदा क्षेत्रों में हम सुधार कर सकते हैं, लेकिन हमने दबाव में जीतने का रास्ता खोज निकाला। हमारे ड्रेसिंग रूम के लिए यह अच्छा संकेत है और हाल के दिनों में कुछ विपरीत नतीजों के बाद फिर से जीत की राह पर लौटना और इस तरह आगे बढ़ता काफी सुखद है। यदि हम कुछ चुनिंदा क्षेत्रों में मामूली सुधार कर सकते हैं तो ये पिछले हफ्ते किए गए हमारे अच्छे प्रदर्शन में इजाफा करेंगे।'

Posted By: Ravindra Pratap Sing