नई दिल्ली, जेएनएन। भारतीय टीम ने कोलंबो टेस्ट में श्रीलंका को पारी और 53 रनों के अंतर से बड़ी मात दी। इस टेस्ट मैच को जीतने के साथ ही टीम इंडिया ने तीन टेस्ट मैचों की सीरीज 2-0 से अपने नाम कर ली है। आखिरी टेस्ट भारत के लिए औपचारिकता और श्रीलंका के लिए सम्मान बचाने का मौका है। 

इस सीरीज को जीतने के साथ ही भारतीय कप्तान विराट कोहली ने टेस्ट मैचों में अपनी जीत के रिकॉर्ड को और बेहतर कर लिया है। 

द्रविड़ को पछाड़ा, धौनी के बराबर

विदेश में जीत के मामले में विराट अब धौनी की बराबरी पर आ गए हैं। उनकी यह छठी टेस्ट जीत है। विराट ने बतौर कप्तान विदेश में 5 टेस्ट जीतने वाले राहुल द्रविड़ को पीछे छोड़ दिया है।

कंगारुओं का रिकॉर्ड तोड़ा

कोहली श्रीलंका में 4 टेस्ट जीतने वाले इकलौते विदेशी कप्तान बन गए हैं। उन्होंने यहां 3 टेस्ट जीतने का रिकी पॉन्टिग का रिकॉर्ड तोड़ दिया। वहीं, लगातार सीरीज जीतने के मामले में कोहली ने स्टीव वॉ को पछाड़ दिया है। वॉ की कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया ने लगातार 7 टेस्ट सीरीज जीती थी। बतौर कप्तान कोहली ने लगातार आठवीं टेस्ट सीरीज जीती है। अब केवल पोंटिंग उनसे आगे हैं। जिनकी कप्तानी में ऑस्ट्रेलिया ने लगातार 9 टेस्ट सीरीज जीती थीं।

रिकॉर्ड बना रहे हैं कोहली

टीम इंडिया पहली विदेशी टीम बनी भारत जिसने सिंहालीज स्पोर्ट्स क्लब में 3 टेस्ट मैच जीते हैं। विराट कोहली श्रीलंका के खिलाफ उसकी धरती पर 4 टेस्ट मैच जीत चुके हैं। उन्होंने रिकी पॉन्टिंग का रेकॉर्ड तोड़ा जिन्होंने बतौर कप्तान श्रीलंकाई धरती पर तीन टेस्ट मैच जीते थे। विदेशी धरती पर सबसे ज्यादा टेस्ट जीतने वाले भारतीय कप्तानों की सूची में विराट, एमएस धौनी के साथ दूसरे नंबर पर हैं। 

अभी कोहली की कप्तानी की शुरुआत ही हुई है। इस समय टीम इंडिया भी अच्छी फॉर्म में दिख रही है। इसलिए उम्मीद की जा सकती है कि आने वाले दिनों में वह दुनिया भर के कई दिग्गज कप्तानों के रिकॉर्ड तोड़ सकते हैं। 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Bharat Singh