नई दिल्ली, जेएनएन। भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली ने जोहानसबर्ग टेस्ट मैच की दूसरी पारी में बेहतरीन बल्लेबाजी की। उन्होंने सिर्फ 41 रन की पारी खेली लेकिन वांडरर्स की पिच पर इतना रन बनाना किसी जंग को जीतने जैसा ही रहा। विराट ने असामान्य उठाल वाली पिच पर जिस धैर्य के साथ बल्लेबाजी की उससे साफ हो जाता है कि वो किस स्तर के बल्लेबाज हैं। टीम के लिहाज से विराट की ये पारी तो अहम रही इसके अलावा उन्होंने भारतीय कप्तान के तौर पर एक नया कीर्तिमान अपने नाम कर लिया। 

धौनी को विराट ने छोड़ा पीछे

कप्तान विराट कोहली ने अपनी 41 रन की पारी के बाद भारतीय टेस्ट टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धौनी का रिकॉर्ड तोड़ दिया। विराट अब टेस्ट कप्तान के तौर पर भारत की तरफ से विदेशी धरती पर सबसे ज्यादा रन बनाने वाले कप्तान बन गए हैं। विराट से पहले ये रिकॉर्ड धौनी के नाम पर था। धौनी ने टेस्ट कप्तान के तौर पर विदेशी धरती पर 3454 रन बनाए थे। अब विराट उनसे आगे निकल गए। 

जोहानिसबर्ग टेस्ट में विराट की पारी

तीसरे यानी जोहानिसबर्ग टेस्ट मैच की दूसरी पारी में विराट ने 41 रन की पारी खेली। उन्होंने 79 गेंदों का सामना किया और कुल 6 चौके लगाए। इस मैच की पहली पारी में विराट ने 106 गेंदों पर 54 रन बनाए और उनकी पारी में उन्होंने कुल 9 चौके लगाए थे। विराट की पारी इस लिहाज से अहम रही क्योंकि वांडरर्स की पिच पर रन बनाना आसान नहीं था। पिच पर बहुत ही ज्यादा मूवमेंट और असामान्य उछाल की वजह से बल्लेबाजी करना आसान नहीं था। 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sanjay Savern