नई दिल्ली, जेएनएन। टीम इंडिया के पास 12 अगस्त से पल्लेकेले में शुरू होने जा रहे तीसरे टेस्ट मैच को जीतकर इतिहास बनाने का मौका है। भारतीय टीम अपने श्रीलंका दौरे पर गॉल टेस्ट में 304 रन और कोलंबो टेस्ट में पारी और 53 रनों से जीत दर्ज कर तीन मैचों की सीरीज में 2-0 से आगे है। 

इतिहास में होगा पहली बार ऐसा

भारतीय क्रिकेट टीम का इतिहास 85 साल पुराना है। अब तक भारतीय टीम विदेशी जमीन पर लगातार तीन टेस्ट मैच नहीं जीत सकी है। अगर पल्लेकेले में भारतीय टीम जीत दर्ज करती है तो ऐसा एतिहासिक होगा। भारतीय टीम अब तक केवल एक बार विदेशी सरजमीं पर किसी सीरीज में तीन टेस्ट मैच जीती है। ऐसा करीब 50 साल पहले हुआ था। इसके अलावा, ऐसा भी पहली बार होगा कि भारतीय टीम विदेशी सरजमीं पर तीन टेस्ट मैचों की सीरीज में क्लीन स्वीप करेगी। 

50 साल पहले की एतिहासिक जीत 

इससे पहले भारतीय टीम ने मंसूर अली खां पटौदी की अगुआई में फरवरी-मार्च 1968 के दौरे में में न्यूजीलैंड को चार टेस्ट मैचों की सीरीज में 3-1 से हराया था। इस सीरीज में लगातार तीन टेस्ट मैच जीतने का रिकॉर्ड नहीं बन सका था, क्योंकि भारत ने ड्यूनेडिन में पहला टेस्ट मैच जीता था और क्राइस्टचर्च में दूसरा टेस्ट मैच हार गए थे। इसके बाद भारत ने वेलिंगटन और ऑकलैंड टेस्ट जीते थे।

 

जब कपिल ने गंवाया था हाथ से मौका

इसके बाद भारत को 1986 में इंग्लैंड में तीन टेस्ट मैचों में क्लीन स्वीप करने और लगातार तीन टेस्ट मैच जीतने का मौका मिला था, लेकिन कपिल देव की कप्तानी में टीम पहले दोनों टेस्ट मैच तो जीत गई थी। हालांकि, इसके बाद तीसरा टेस्ट मैच ड्रॉ हो गया था। 2004 में एक बार और पाकिस्तान के खिलाफ भारत ने पहला टेस्ट मैच जीता था, लेकिन टीम दूसरा मैच हार गई थी। हालांकि, तीसरा टेस्ट जीतकर भारत ने सीरीज अपने नाम की थी।

 

बांग्लादेश और जिंबाब्वे के खिलाफ ही है क्लीन स्वीप

भारतीय टीम विदेशों में अब तक केवल बांग्लादेश और जिम्बाब्वे के खिलाफ ही क्लीन स्वीप कर सकी है। हालांकि, इसमें से कोई भी सीरीज तीन टेस्ट मैचों की नहीं थी। भारत ने बांग्लादेश को 2000 में एक टेस्ट और 2004 और 2010 में दो-दो टेस्ट मैचों की सीरीज में हराया था। इसके अलावा, भारतीय टीम जिंबाब्वे को उसकी जमीन पर दो मैचों में 2-0 से हरा चुकी है।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Bharat Singh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस