नई दिल्ली, जेएनएन। भारतीय क्रिकेट टीम के पास ऑस्ट्रेलिया से होने वाली वनडे सीरीज के बाद टेस्ट के साथ ही वनडे में भी नंबर एक टीम बनने का सुनहरा मौका है। फिलहाल टीम इंडिया टेस्ट में नंबर वन टीम है और वनडे में नंबर तीन की टीम है। 

वनडे रैंकिंग में नंबर तीन पर मौजूद भारत नंबर दो पर काबिज ऑस्ट्रेलिया से केवल दशमलव के बाद के अंकों से ही पीछे है। दोनों टीमों के इस समय 117 अंक हैं। इसलिए भारत के साथ ही ऑस्ट्रेलिया के लिए भी इस सीरीज में नंबर वन बनने का मौका है। 

दोनों देशों के बीच 17 सितंबर से 1 अक्टूबर तक पांच मैचों की वनडे सीरीज होनी है। दोनों टीमों के लिए नंबर वन बनने का समान अवसर इसलिए हैं क्योंकि अभी पहले नंबर की टीम दक्षिण अफ्रीका की टीम इन दोनों से केवल दो अंक ही आगे है। अगर दोनों टीमों में कोई भी टीम 4-1 से सीरीज अफने नाम करने में सफळ रहती है तो यह वह वनडे की नंबर एक टीम बन जाएगी। 

 

भारत की मौजूदा टीम ने श्रीलंका को उसी के घर में वनडे सीरीज में 5-0 से पटकनी दी है। टीम के खिलाड़ी जबरदस्त फॉर्म में हैं। जबकि ऑस्ट्रेलिया बांग्लादेश से टेस्ट मैच हारने के बाद भारत आई है। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भारत को घरेलू परिस्थितियों का लाभ मिलेगा। पिछले साल टेस्ट सीरीज में भारत ने ऑस्ट्रेलिया को चार टेस्ट मैचों की सीरीज में 2-1 से मात दी थी।

 

OTk5MjYwfHwxNTQ1fHw1ODB8fDEsMiwx

 

 

टीम इंडिया के लिए यह वनडे सीरीज इसलिए भी अहम है क्योंकि वह इस समय काफी बढ़त के साथ टेस्ट की भी नंबर वन टीम है। आइसीसी विश्व कप सेमीफाइनल और चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में हार के बाद अगर उसे क्रिकेट में अपनी बादशाहत साबित करनी है तो पहले वनडे की नंबर वन टीम बनना होगा और फिर इस खिताब को बचाए रखना होगा। 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Bharat Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप