जोहानिसबर्ग, आइएएनएस। दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज रासी वेन डेर डुसेन के पहली पारी में हुए आउट को लेकर इंटरनेट मीडिया से कमेंट्री बाक्स तक विवाद छिड़ा हुआ है। अब इस विवाद में पूर्व दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाज शान पोलक और भारतीय बल्लेबाज दिनेश कार्तिक के बीच भी बहस हो गई।

शान पोलाक और विकेटकीपर दिनेश कार्तिक ने भी इस घटना पर बहस की। इस बहस के दौरान पोलाक ने कहा कि दस्तानों का भारीपन कभी-कभी विकेटकीपरों को यह एहसास नहीं होने देता कि क्या कैच साफ है, जिसके लिए कार्तिक सहमत हो गए। रिप्ले के बाद पोलाक ने कहा कि 15 साल पहले हमें एक ही समस्या थी कि हमारे पास बहुत कम कैमरे थे और आज अधिक कैमरे तो हैं ही साथ ही बेहतर तकनीक वाले हैं, लेकिन इसके बावजूद भी हम निर्णय लेने में सक्षम नहीं हैं।

हालांकि, भारतीय विकेटकीपर बल्लेबाज ने इस बात पर भी जोर दिया कि निर्णय पर अंपायरों के साथ बातचीत करने के लिए दक्षिण अफ्रीका के कप्तान डीन एल्गर सही थे। मालूम हो कि दक्षिण अफ्रीकी की पहली पारी में 45वें ओवर की चौथी गेंद पर शार्दुल ठाकुर ने रासी वेन डेर डुसेन को अंदर की ओर गेंद फेंकी जो उनके बल्ले का किनारा लेकर थाईपैड पर लगी और गेंद पंत के दस्तानों में जा समाई। अंपायर मराय इरासमस ने डुसेन को आउट दे दिया।

हालांकि रीप्ले में दिखाई दे रहा था कि गेंद पंत के ग्ल्वज तक पहुंचने से पहले ही कथित तौर पर जमीन पर टप्पा खा गई थी। लेकिन जब रिप्ले दिखाया, तब तक बल्लेबाज बाउंड्री को पार कर चुका था और किसी ने अंपायर से अपील भी नहीं की थी। ऐसे में विकेट ही माना गया।

Edited By: Viplove Kumar