नई दिल्ली, जेएनएन। भारत और वेस्टइंडीज के बीच दूसरे टेस्ट में तेज गेंदबाज शार्दुल ठाकुर को आखिरकार टेस्ट मैच में डेब्यू का मौका मिल ही गया। लगभघ दो साल से इस मौके का इंतजार कर रहे शार्दुल को कोच रवि शास्त्री ने टेस्ट कैप दी। वह भारत की तरफ से टेस्ट खेलने वाले 294वें खिलाड़ी बने। पहले टेस्ट में भी वह अंतिम 12 में शामिल थे लेकिन प्लेइंग इलेवन में वह जगह नहीं बना सके थे।

शार्दुल इस साल टेस्ट क्रिकेट में डेब्यू करने वाले भारत के 5वें खिलाड़ी बने। इस साल ठाकुर से पहले साउथ अफ्रीका के खिलाफ जसप्रीत बुमराह, इंग्लैंड दौरे पर ऋषभ पंत और हनुमा विहारी, वेस्टइंडीज के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में पृथ्वी शॉ ने डेब्यू किया था। ये दूसरा मौका है जब टीम इंडिया के इतने खिलाड़ियों ने एक साल में टेस्ट डेब्यू किया हो। 

इससे पहले साल 2013 में भी टीम इंडिया के 5 खिलाड़ियों ने अपने टेस्ट करियर का आगाज किया था। पांच साल पहले ही करें तो 2013 में मोहम्मद शमी, रोहित शर्मा, अजिंक्य रहाणे, शिखर धवन और भुवनेश्वर कुमार ने डेब्यू किया था

वैसे शार्दुल भारत का वनडे और टी-20 क्रिकेट में प्रतिनिधित्व कर चुके हैं। उन्होंने अपना पहला वनडे पिछले साल अगस्त में श्रीलंका के खिलाफ किया, वहीं वह अपना पहला टी-20 मैच इसी साल साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेले थे।

भारत की ओर से 5 वनडे और 7 टी20 मैच खेलने वाले ठाकुर के लिए हालांकि पहले मैच की शुरुआत उनकी काफी खराब रही और वह शुरुआत में ही चोटिल होकर मैदान से बाहर चले गए।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Lakshya Sharma