नई दिल्ली, जेएनएन। भारतीय क्रिकेट टीम के ओपनर रोहित शर्मा ने ब्रिसबेन टेस्ट की दूसरी पारी में एक खास मुकाम हासिल किया। ऑस्ट्रेलिया के खेली जा रही चार मैचों की सीरीज के निर्णायक मैच में रोहित ने शानदार फील्डिंग के दम पर रिकॉर्ड बुक में नाम दर्ज करवाया। इस पारी में उन्होंने कुल 5 कैच पकड़े और पूर्व दिग्गजों की लिस्ट में नाम शामिल करवाया।

ब्रिसबेन टेस्ट मैच के चौथे दिन भारतीय टीम ने शानदार गेंदबाजी के दम पर ऑस्ट्रेलिया को दूसरी पारी में 294 रन पर ऑलआउट किया। पहली पारी में 33 रन की मामूली बढ़त हासिल करने वाली मेजबान टीम ने भारत के सामने 328 रन के जीत का लक्ष्य रखा। चौथे दिन भारत ने बिना किसी नुकसान के 4 रन बनाया था। मैच के आखिरी दिन भारतीय ओपनर रोहित शर्मा और शुभमन गिल पर काफी कुछ निर्भर करेगा।

रोहित ने बनाया खास रिकॉर्ड

ब्रिसबेन टेस्ट में दोनों पारियों को मिलकर कुल 5 कैच पकड़े। ऐसा करने के साथ ही वह गाबा में किसी टेस्ट के दौरान सबसे ज्यादा कैच पकड़ने के मामले में संयुक्त रूप से दूसरे स्थान पर आ गए। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरी पारी में रोहित ने स्लिप में फील्डिंग करते हुए शार्दुल ठाकुर की गेंद पर कैमरून ग्रीन का कैच पकड़ा। यह मैच के दौरान उनका पांचवां कैच था।

ब्रिस्बेन में किसी एक टेस्ट मैच के दौरान सबसे ज्यादा 6 कैच पकड़ने का रिकॉर्ड न्यूजीलैंड के पूर्व कप्तान स्टीफन फ्लेमिंग के नाम दर्ज है। साल 1997 में खेले गए टेस्ट मैच के दौरान फ्लेमिंग ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 6 कैच पकड़े थे। ऑस्ट्रेलिया के ही सैम लॉक्सटन और मार्क टेलर के नाम भी 5-5 कैच लपकने का रिकॉर्ड है। 1950 में इंग्लैंड के खिलाफ खेले गए मैच में लॉक्सटन ने 5 कैच पकड़े थे जबकि टेलर ने 1997 में न्यूजीलैंड के खिलाफ ऐसा किया था।  

Ind-vs-End

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप