नई दिल्ली, जेएनएन। भारतीय विकेटकीपर-बल्लेबाज रिषभ पंत के लिए चौथे टेस्ट मैच की पहली पारी बल्लेबाजी के लिहाज से अच्छी नहीं रही। रिषभ अपनी इस पारी में खाता भी नहीं खोल पाए और पवेलियन वापस लौट गए। रिषभ पंच ने इस मैच में एक भी रन नहीं बनाया लेकिन एक कमाल का विश्व रिकॉर्ड वो जरूर अपने नाम कर गए। 

टेस्ट में सबसे ज्यादा गेंद खेलकर शून्य पर आउट होने वाले विकेटकीपर

रिषभ पंत टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा गेंद खेलकर शून्य पर आउट होने वाले दुनिया के पहले विकेटकीपर बन गए हैं। उन्होंने पहली पारी में कुल 29 गेेंदों का सामना किया और शून्य पर आउट हो गए। रिषभ का विकेट स्पिनर मोइन अली ने लिया। मोइन ने रिषभ को एलबीडब्ल्यू आउट किया। रिषभ ने इंग्लैंड के विकेट कीपर जोस बटलर का रिकॉर्ड तोड़ा। इससे पहले बटलर के नाम पर ये रिकॉर्ड था। 

गेंद, खिलाड़ी, टीम, बनाम, जगह, वर्ष

29, रिषभ पंत, भारत, इंग्लैंड, साउथैंप्टन, 2018

22, जोस बटलर, इंग्लैंड, वेस्टइंडीज, नॉर्थसाउंड, 2015

21, डेविड विलियम्स, वेस्टइंडीज, ऑस्ट्रेलिया, मेलबर्न, 1992

टेस्ट में सबसे ज्यादा गेंद खेलने के बाद शून्य पर आउट होने वाले भारतीय

रिषभ पंत टेस्ट में सबसे ज्यादा गेंद खेलने के बाद शून्य पर आउट होने वाले तीसरे भारतीय खिलाड़ी बन गए। रिषभ से पहले इरफान पठान और सुरेश रैना भारत की तरफ से ये कमाल कर चुके हैं। 

गेंद, खिलाड़ी, बनाम, स्थान, वर्ष

29, इरफान पठान, पाकिस्तान, बेंगलुरु, 2005

29, सुरेश रैना, इंग्लैंड, ओवल, 2011

29, रिषभ पंत, इंग्लैंड, साउथैंप्टन, 2018

डेब्यू टेस्ट में भी रिकॉर्ड बनाया था रिषभ ने

रिषभ पंत ने इंग्लैंड के खिलाफ तीसरे टेस्ट मैच के जरिए टेस्ट क्रिकेट में अपना डेब्यू किया था। अपने पहले टेस्ट मैच में ही उन्होंने इंग्लिश टीम के खिलाफ बेहतरीन विकेटकीपिंग की थी और दोनों पारियों में कुल सात कैच पकड़े थे। नॉटिंघम टेस्ट मैच की दोनों पारियों में उन्होंने 24 और 01 रन की पारी खेली थी। रिषभ को दिनेश कार्तिक के खराब प्रदर्शन के बाद टेस्ट टीम में मौका दिया गया है। उन्होंने अपने पहले टेस्ट मैच में भी रिकॉर्ड बनाया था। ट्रेंट ब्रिज में टेस्ट मैच की एक पारी में पांच कैच लेने वाले वो भारत के पहले विकेटकीपर बने थे। इसके अलावा वो भारत के पहले ऐसे विकेटकीपर बने थे जिन्होंने टेस्ट क्रिकेट में अपने डेब्यू इनिंग में पांच विकेट लिए थे। उनसे पहले दुनिया के दो विकेटकीपरों ने ये कमाल किया था। 

Posted By: Sanjay Savern