किंगस्टन, नई दिल्ली। पाकिस्तान के टेस्ट कप्तान मिस्बाह उल हक का समय पता नहीं अच्छा चल रहा है या खराब। वेस्टइंडीज के खिलाफ जारी पहले टेस्ट मैच में वह अपनी कोई गलती न होने के बावजूद शतक पूरा नहीं कर सके और 99 रन पर पवेलियन लौट गए। 

मिस्बाह टेस्ट मैच के चौथे दिन नाबाद पवेलियन लौटै, क्योंकि उनका साथ देने के लिए कोई बल्लेबाज क्रीज पर नहीं बचा था। पाकिस्तान की पहली पारी 407 रनों पर सिमट गई थी। इसके साथ ही मिस्बाह उल हक पाकिस्तान के पहले ऐसे कप्तान बन गए, जो 99 रनों पर नाबाद पवेलियन लौटे। 

अगर मिस्बाह उल हक शतक बना लेते तो वह शतक लगाने वाले सातवें सबसे उम्रदराज खिलाड़ी होते। वह इस लिस्ट में नौवें नंबर पर हैं। 1934 के बाद से उनसे ज्यादा उम्र के किसी खिलाड़ी ने टेस्ट मैचों में शतक नहीं बनाया है। अगर वह शतक बना लेते तो यह उनका 11वां टेस्ट शतक होता। 

मिस्बाह की उम्र इस रिकॉर्ड के बनने तक 42 साल 332 दिन है। उन्होंने 72 टेस्ट की 126 पारियों में 45.84 के औसत से 4951 रन बनाए हैं। उनका बेस्ट स्कोर नाबाद 161 रन है। इस दौरान उन्होंने 10 शतक और 36 अर्धशतक बनाए हैं। 

हालांकि, चौथे दिन का खेल खत्म होने तक इस मैच में पाकिस्तान ने शिकंजा कस लिया है। अगर उनकी टीम यह टेस्ट मैच जीत जाती है तो उन्हें इससे कुछ सांत्वना तो मिलेगी। 

आइपीएल की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल जगत की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Bharat Singh