नई दिल्ली, जेएनएन। सफेद कपड़ों के क्रिकेट में इंग्लैंड को 4-0 से पस्त करने के बाद टीम इंडिया को अब फटाफट क्रिकेट के खुद को तैयार करना है। 15 जनवरी से शुरु होने वाली वनडे सीरीज़ के लिए भारतीय चयनकर्ता मुंबई में शुक्रवार को जब इंग्लैंड के खिलाफ तीन वनडे और तीन टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैचों के लिए टीम का चयन करने के लिये बैठेंगे, तो यह लगभग तय है कि विराट कोहली को इन दोनों प्रारूपों की कप्तानी भी सौंपी जाएगी। इससे भारत की सीमित ओवरों की क्रिकेट में नए युग की शुरुआत होगी। महेंद्र सिंह धोनी ने बुधवार को टी-20 और वनडे क्रिकेट की कप्तानी छोड़ दी और ऐसे में अब टेस्ट कप्तान कोहली को इन दोनों प्रारूपों में टीम की अगुवाई करने का जिम्मा सौंपा जा सकता है।

कोहली को कप्तानी का जिम्मा सौंपे जाने को लेकर किसी तरह का संदेह नहीं है। वन-डे सीरीज 15 जनवरी से पुणे से शुरू होगी, वहीं टी20 सीरीज गणतन्त्र दिवस से शुरू होगी। इस सीरीज के बाद भारतीय टीम सीमित ओवर क्रिकेट के लिए जून में होने वाली चैम्पियन्स ट्रॉफी में ही खेलेगी, उससे पहले इस टीम का सिर्फ टेस्ट क्रिकेट खेलना ही प्रस्तावित है। लेकिन चयनकर्ताओं के लिए उचित संतुलन बनाते हुए दो टीमों का चयन करना आसान नहीं होगा क्योंकि कई खिलाड़ी अब भी चोटों से जूझ रहे हैं।

सलामी जोड़ी का सस्पेंस

भारतीय टीम को टॉप ऑर्डर के बारे में कुछ नया करना होगा, क्योंकि उनके स्थायी ओपनर बल्लेबाज रोहित शर्मा अभी पूरी तरह फिट नहीं हुए हैं इसलिए उनके स्थान पर वेस्टइंडीज के खिलाफ टी-20 सीरीज में मध्यक्रम में खेलने वाले केएल राहुल को बल्लेबाजी करते हुए देखा जा सकता है। उनके साथ शिखर धवन नियमित बल्लेबाज के तौर पर देखे जा सकते हैं।

जिम्बाब्वे के खिलाफ प्रभावित करने वाले मनदीप सिंह और रणजी ट्रॉफी में ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करने वाले ऋषभ पंत में से भी किसी एक को ओपनर के तौर पर चुना जा सकता है। जून में होने वाली चैंपियन्स ट्रॉफी के लिए रोहित शर्मा को बचाकर रखा जा सकता है।

मध्यक्रम के लिए भी होगी माथापच्ची

2016 में क्रिकेट के सभी प्रारूपों सबसे अधिक रन बनाने वाले भारतीय टेस्ट कप्तान विराट कोहली और महेंद्र सिंह धोनी का नाम इस टीम में निश्चित है। अजिंक्य रहाणे पूरी तरह से फिट नहीं है, ऐसे में मनीष पांडे को उनकी जगह मध्यक्रम के लिए चुना जा सकता है। इंग्लैंड के खिलाफ तिहरा शतक जड़ने और आइपीएल में अच्छा प्रदर्शन करने वाले करुण नायर को भी टीम में बुलाया जा सकता है। इंग्लैंड के खिलाफ शानदार टी20 रिकॉर्ड रखने वाले सुरेश रैना भी इस सूची में आ सकते हैं। ऑल राउंडर के लिए दीपक हुड्डा और युवराज सिंह को टीम में चुना जा सकता है, क्योंकि हार्दिक पाण्ड्या अभी फिट नहीं है।

गेंदबाजी में भी सिरदर्द

रविचंद्रन अश्विन और रविंद्र जडेजा को आराम दिया जा सकता है, जबकि जयंत यादव और अक्षर पटेल चोटिल होकर पहले ही बाहर हो चुके हैं। फ्रंट लाइन स्पिनर के रूप में भारतीय टीम के पास सिर्फ अमित मिश्रा है। विकल्पों की कमी और घरेलू सत्र में अच्छे प्रदर्शन के कारण कुलदीप यादव और शहबाज नदीम को अवसर मिलना तय माना जा रहा है। आइपीएल में शानदार प्रदर्शन के बावजूद युजवेन्द्र चहल को अभी और इंतजार करना पड़ेगा। मोहम्मद शमी और उमेश यादव को आराम दिए जाने की संभावना है, ऐसे में जसप्रीत बुमराह, अशीष नेहरा और भुवनेश्वर कुमार 15 सदस्यीय टीम को पूर्ण करना चाहेंगे।

संभावित टीम:

केएल राहुल, शिखर धवन, ऋषभ पंत, मनजीत सिंह, विराट कोहली, महेंद्र सिंह धोनी (कप्तान), मनीष पांडे, करुण नायर, दीपक हूडा, युवराज सिंह, अमित मिश्रा, कुलदीप यादव, शाहबाज नदीम, जसप्रीत बुमराह, अशीष नेहरा, भुवनेश्वर कुमार।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Pradeep Sehgal

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस