नई दिल्ली, पीटीआइ। एमएस धौनी की कप्तानी में खेल रही झारखंड की टीम ने शानदार अंदाज में विजय हजारे ट्रॉफी के सेमीफाइनल में जगह बना ली है। पालम मैदान पर बुधवार को खेले गए क्वार्टरफाइनल मैच में झारखंड ने विदर्भ की टीम को छह विकेट से मात दी।

विदर्भ ने मैच में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। हालांकि यह फैसला विदर्भ के लिए अच्छा साबित नहीं हुआ, क्योंकि केवल 87 रनों में ही उसने अपने सात विकेट गंवा दिए थे। इसके बाद रवि जांगिड़ ने 62 रनों की मदद से टीम का स्कोर 50 ओवर में  159 रन तक पहुंचाया। 
झारखंड की ओर से वरुण एरोन और राहुल शुक्ला ने बेजान पिच पर शॉर्टपिच गेंदों की मदद से चार विकेट आपस में बांटने का काम किया। 
जवाब में झारखंड के ओवरन प्रत्यूश सिंह (33) और इशान किशन (35) ने टीम को अच्छी शुरुआत दी। इसके बाद इशान जग्गी (नाबाद 41) और कप्तान धौनी (नाबाद 18) ने टीम को जीत की राह तक पहुंचाया।
झारखंड की टीम ने 45.1 ओवर में ही मैच अपने नाम कर लिया। धौनी ने छक्का मारकर अपनी खास शैली में झारखंड को जीत दिलाई।  
इस मैच में धौनी की मौजूदगी ने ही मैच में जान डालने का काम किया, हालांकि पिच से बल्लेबाजों को कोई मदद नहीं मिली। इस मैच में धौनी को देखने के लिए भारी संख्या में दर्शक मौजूद थे। कम स्कोर के इस मैच में धौनी के बल्लेबाजी के लिए उतरने की उम्मीद नजर नहीं आ रही थी, हालांकि सौरभ तिवारी के आउट होने पर झारखंड का स्कोर 116 रनों पर 4 विकेट हो गया था। इससे धौनी को मैदान पर उतरना पड़ा और दर्शकों ने धौनी का स्वागत किया। 

धौनी को मैदान पर देख सड़क से गुजरने वाले वाहन भी रुक गए थे और एक दर्शक तो सुरक्षा रेखा को लांघकर मैदान में आ गया था। धौनी ने भी उसे निराश नहीं किया और ऑटोग्राफ देकर वापस भेजा। 

Posted By: Bharat Singh

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप