नई दिल्ली, प्रदीप सहगल। आइपीएल के दूसरे क्वालिफायर मुकाबले में मुंबई की टीम ने कोलकाता को 6 विकेट से मात देकर फाइनल का टिकट कटा लिया। लेकिन इस हार से पहले कोलकाता की टीम ने एक ऐसा निराशाजनक काम कर दिया। जिसकी उम्मीद किसी को भी नहीं थी। सब हैरान और परेशान थे कि आखिर इतने अहम मुकाबले में कोलकाता की टीम ने ऐसा क्यों कर दिया ?

कोलकाता ने कर दिया ऐसा

इस मुकाबले की शुरुआत कोलकाता की टीम के लिए अच्छी नहीं हुई। दूसरे ही ओवर में केकेआर के ओपनर क्रिस लिन 4 रन बनाकर आउट हो गए। पांचवें ओवर में सुनील नरेन (10) भी आउट होकर पवेलियन लौट गए। इसके अगले ही ओवर में रॉबिन उथप्पा (01) भी बुमराह की गेंद पर अपना विकेट गंवाकर चलते बनें। आलम ये थे कि पहले 6 ओवर खत्म होते-होते कोलकाता की टीम ने 3 विकेट खोकर सिर्फ 25 रन बनाए थे। जो कि आइपीएल 2017 का पहले 6 ओवर (पावरप्ले) में सबसे कम स्कोर है। केकेआर की टीम ने ऐसा निराशाजनक प्रदर्शन कर सभी को हैरान कर दिया, क्योंकि कोलकाता की टीम से ये उम्मीद किसी को भी नहीं थी। इससे पहले खेले गए मुकाबलों मे केकेआर का पावरप्ले में न्यूनतम स्कोर 40 रन था, जो कि इस टीम ने सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ 15 अप्रैल 2017 को ईडन गार्डंस के मैदान पर बनाया था।

कोलकाता का बैंगलोर कनेक्शन

इस आइपीएल में कोलकाता की टीम का बैंगलोर के चिन्नास्वामी स्टेडियम से एक खास नाता बना गया। इस सीज़न में कोलकाता की टीम बैंगलोर में अर्श पर पहुंची और यहीं पर ये टीम फर्श पर भी आ गई। दरअसल कोलकाता की टीम ने इस साल पावरप्ले में सबसे ज़्यादा 105 रन भी इसी मैदान पर रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की टीम के खिलाफ बनाए थे और अब दूसरे क्वालिफायर में केकेआर ने मुंबई के खिलाफ इस सीज़न का अपना पावरप्ले का सबसे कम स्कोर 25 रन भी बनाया।

मुंबई ने बचाई लाज

मुंबई की टीम ने भी इस मैच में अपनी लाज बचा ली, क्योंकि इसी मुकाबले में रोहित शर्मा की टीम ने पहले 6 ओवर में 3 विकेट खोकर 36 रन बनाए। आपको बता दें कि ये इस आइपीएल का पहले 6 ओवर (पावरप्ले) में दूसरा सबसे कम स्कोर है।

आइपीएल की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल जगत की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Pradeep Sehgal

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस