(शिवम् अवस्थी), नई दिल्ली। आज आइपीएल-8 में जब चेन्नई सुपरकिंग्स और मेजबान मुंबई इंडियंस की टीमें पहले क्वालीफायर में टक्कर लेंगी, तब एक तरफ दो ये जंग दो टीमों के बीच होगी, वहीं दूसरी तरफ मैदान पर एक अनोखा मुकाबला और होगा। ये जंग होगी दो धुरंधरों के बीच जो मैदान से बाहर की जिंदगी में करीबी दोस्त भी हैं।

- 'फ्लाइट पकड़ो और वापस जाओ':

2012 आइपीएल सीजन में पहली बार आइपीएल में प्लेऑफ मुकाबलों की शुरुआत हुई थी। तब से लगातार तीन सालों तक लगातार मुंबई और चेन्नई की टीमें इन प्लेऑफ मुकाबलों में आमने-सामने आ चुकी हैं। 2013 के प्लेऑफ मुकाबलों में चेन्नई और मुंबई की भिड़ंत एलीमिनेटर मैच में हुई थी, जहां हार का मतलब था कि टूर्नामेंट से बाहर का रास्ता देखना जबकि जीतने वाली टीम को एक मौका और मिलता। उस मुकाबले में चेन्नई ने मुंबई को 188 रनों का लक्ष्य दिया था और उस टूर्नामेंट व मैच के दौरान कीरोन पोलार्ड और ड्वेन ब्रावो में काफी खींचातनी देखी गई थी। इसी खींचातनी के बीच जब ब्रावो ने पोलार्ड को आउट करके बदला लिया तो उनके करीब जाकर इशारों में कहा 'फ्लाइट पकड़ो और अब वापस घर लौट जाओ'। आज फिर ये दोनों प्लेऑफ में आमने-सामने होंगे, देखना दिलचस्प होगा कि इस पर कौन किसको फ्लाइट पकड़ने के लिए कहता है।

- इस बार ब्रावो ने ही कसी है पोलार्ड पर लगामः

आपको बता दें कि मौजूदा सीजन के लीग मुकाबलों में मुंबई और चेन्नई की टीमें दो बार आमने-सामने आईं और दोनों ही मुकाबलों में ब्रावो ने ही पोलार्ड को पवेलियन का रास्ता दिखाया। पहली बार जब इस सीजन में इन दोनों टीमों की भिड़ंत हुई तब ब्रावो ने पोलार्ड को वेस्टइंडीज के ही ड्वेन स्मिथ के हाथों कैच करा दिया। उस समय पोलार्ड 30 गेंदों पर 64 रनों की धुआंधार पारी खेल चुके थे। हालांकि वो मैच चेन्नई ने जीता। उसके बाद जब दूसरी बार ये दोनों टीमें आमने-सामने आईं, तब एक बार फिर ब्रावो ने ही पोलार्ड को आउट किया। हालांकि इस बार ब्रावो गेंदबाज नहीं थे बल्कि उन्होंने फील्डर के तौर पर रन आउट करके ये भूमिका निभाई।

आइपीएल की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल जगत की अन्य खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Shivam

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस