मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

नई दिल्ली, प्रदीप सहगल, [जागरण स्पेशल]। क्रिकेट के खेल में एक-एक रन और एक-एक गेंद की अहमियत होती है। ऐसे ही इस खेल में अंपायर का एक गलत फैसला मैच का निर्णय तक बदल देता है। ऐसी ही एक घटना बांग्लादेश प्रीमियर लीग के एक मैच में देखने को मिली। यह मैच सिलहट सिक्सर्स और रंगपुर राइडर्स के बीच खेला गया। इस मुकाबले में अंपायर की एक गलती से पूरे मैच का निर्णय ही बदल गया।

अंपायर से हो गई ये चूक

चटगांव में खेले गए इस मैच में रंगपुर राइडर्स ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाज़ी करने का फैसला किया और सिलहट सिक्सर्स ने 20 ओवर में 5 विकेट खोकर 173 रन बनाए। सिलहट सिक्सर्स की तरफ से बाबर आजम ने सबसे ज़्यादा 54 रन बनाए। 174 रन का पीछा करते हुए रंगपुर राइडर्स ने 15 ओवर में 4 विकेट खोकर 121 रन बना लिए थे। अब उन्हें जीत के लिए 30 गेंदों में 53 रन की दरकार थी। अगला ओवर कामरुल इस्लाम रब्बी ने फेंका और इस ओवर में अंपायरों से एक गलती हो गई, जिसने पूरे मैच का रुख ही पलट कर रख दिया। दरअसल इस ओवर में अंपायरों ने गेंदबाज से 7 गेंदें फेंकवा दीं।

अंपायरों से इस वजह से हुई गलती

कामरुल इस्लाम रब्बी अपना ओवर खत्म करने के बाद अंपायर महफजुर रहमान के पास अपनी कैप लेने के लिए गए। अंपायर महफजुर रहमान ने उन्हें रोकते हुए थर्ड अंपायर गाजी सोहेल से बातचीत की और बताया कि इस ओवर की एक गेंद बाकी है। अंपायरों की इस गलती के चलते रब्बी को एक गेंद और फेंकनी पड़ी। इस एक अतिरिक्त गेंद की वजह से ही सिलहट सिक्सर्स को इस मुकाबले में हार का सामना करना पड़ा।

एक गेंद से कैसे हारे सिलहट सिक्सर्स ?

जब ये अतिरिक्त गेंद फेंकी गई तो इस पर रवि बोपारा ने एक रन लेकर स्ट्राइक अपने पास रख ली, जबकि इससे पहले वाली यानी कि जो सचमुच में ओवर की आखिरी गेंद थी उस पर उन्होंने 02 रन लिए थे। लेकिन इस अतिरिक्त गेंद के चलते अगले ओवर में स्ट्राइक रवि बोपारा के पास वापस आ गई। ओवर खत्म हुआ तो रंगपुर राइडर्स को 24 गेंदों में 43 रन की जरूरत थी, लेकिन बोपारा ने अगले ओवर की चार गेंदों पर 11 रन बटोर कर लक्ष्य को ज़्यादा आसान बना दिया। हालांकि रब्बी के अगले ओवर में बोपारा आउट हो गए, लेकिन अपना विकेट गंवाने से पहले वो रंगपुर राइडर्स की टीम को जीत के करीब ला चुके थे। 

सिलहट सिक्सर्स ने दर्ज की शिकायत

अंपायरों की इस गलती के लिए सिलहट सिक्सर्स ने बांग्लादेश प्रीमियर लीग की गवर्निंग काउंसिल में आधिकारिक शिकायत भी दर्ज करवा दी है। टीम मैनेजमेंट का मानना है कि इस एक गेंद की वजह से ही इस टाइट मुकाबले का पासा रंगपुर राइडर्स की तरफ झुक गया। ये हार सिलहट सिक्सर्स के लिए बड़ी हार साबित हुई।इस शिक्स्त के बाद सिलहच की टीम अब प्लेऑफ की दौड़ से बाहर हो गई। 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें  

Posted By: Pradeep Sehgal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप