नई दिल्ली, प्रदीप सहगल, [जागरण स्पेशल]। कोलकाता में खेले गए पहले टेस्ट मैच में टीम इंडिया ने शानदार प्रदर्शन किया। इस मैच के पांचवें दिन के आखिरी दो सेशन में तो टीम इंडिया श्रीलंका पर पूरी तरह से हावी रही। भले ही ये टेस्ट मैच ड्रॉ रहा हो लेकिन इस टेस्ट के पांचवें दिन भारतीय टीम ने इस मैच में लगभग-लगभग जीत हासिल कर ही ली थी। इस मैच को जीतने के लिए भारत को 03 विकेट की जरुरत थी, लेकिन ये टेस्ट मैच ड्रॉ हो गया। भारतीय टीम के इस दमदार प्रदर्शन के बावजूद एक भारतीय खिलाड़ी है जो निराश है। 

बल्ले से भी दिखा दम, गेंदबाज़ भी गरजे

इस मुकाबले में भारतीय टीम के बल्लेबाज़ भले ही पहली पारी में अच्छा प्रदर्शन न कर सके हो, लेकिन दूसरी पार में उन्होंने दिखा दिया कि टीम इंडिया क्यों टेस्ट की नंबर वन टीम है। जहां दूसरी पारी में धवन और राहुल ने अर्धशतक जमाए तो वहीं पुजारा ने पहली पारी में फिफ्टी लगाई थी। उसके बाद कप्तान कोहली ने भी दूसरी पारी दमदार शतक जमाकर लौटे। वहीं गेंदबाज़ी में भी जहां शमी और भुवी ने पहली पारी में चार-चार विकेट चटकाए तो उमेश यादव ने भी 2 विकेट हासिल लिए। वहीं स्पिन गेंदबाज़ों के लिए इस पिच में कुछ खास नहीं था तो जडेजा और अश्विन का योगदान औसत ही रहा। लेकिन भारतीय टीम के अच्छे प्रदर्शन के बावजूद टीम इंडिया के उप-कप्तान अजिंक्य रहाणे बेहद निराश है।

इस वजह से निराश है उप-कप्तान

रहाणे निराश है क्योंकि पहली पारी में वो जहां वो सिर्फ 04 रन बनाकर आउट हो गए थे तो दूसरी पारी में रहाणे खाता तक खोलने में नाकाम रहे। जहां दूसरी पारी में बाकी के भारतीय बल्लेबाज़ पिच के बेहतर होने का फायदा उठा रहे थे, वहीं रहाणे उस पिच पर खाता तक नहीं खोल सके। पहली पारी में रहाणे शनाका की गेंद पर विकेटकीपर डिकवेला को कैच दे गए थे तो दूसरी पारी में उन्हें लकमल ने एलबीडब्ल्यू आउट कर दिया।

ऐसा है रहाणे का रिकॉर्ड

रहाणे ने 40 टेस्ट मैच में 2809 रन बनाए हैं। जिसमें 9 शतक और 12 अर्धशतक भी शामिल हैं। रहाणे का सर्वाधिक टेस्ट स्कोर 188 रन का है जो उन्होंने पिछले साल न्यूज़ीलैंड के खिलाफ इंदौर में बनाया था।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें  

Posted By: Pradeep Sehgal