खेल संवाददाता, कोलकाता। आइपीएल के 2020 सत्र की नीलामी के हीरो रहे ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज पैट कमिंस को खरीदने के लिए पहले दिल्ली कैपिटल्स और रॉयल चैलेंजर्स बेंगलूर के बीच जबरदस्त टक्कर चली लेकिन इसके बाद कोलकाता ने एंट्री मारी और उन्हें 15.5 करोड़ रुपये में अपने नाम कर लिया। कमिंस ने अब तक आइपीएल के 16 मैचों में 17 विकेट चटकाए हैं। वह इससे पहले भी कोलकाता टीम का हिस्सा रहे हैं और दिल्ली और मुंबई की टीमों में भी शामिल रहे हैं।

मैक्सवेल की घर वापसी : नीलामी में दूसरे सबसे महंगे खिलाड़ी ऑस्ट्रेलिया के ही ग्लेन मैक्सवेल रहे, जिसे किंग्स इलेवन पंजाब ने 10.75 करोड़ रुपये में खरीदा। मैक्सवेल की घर वापसी हुई है। मैक्सवेल को लेकर दिल्ली और पंजाब में काफी देर बोली चली, हालांकि पंजाब की जेब भरी होने के कारण आखिरकार वह मैक्सवेल को खरीदने में सफल रही। मैक्सवेल मानसिक स्वास्थ्य संबंधी कारणों से क्रिकेट से दूर थे और उन्होंने हाल ही में वापसी की है। वह अब तक 69 आइपीएल मैचों में 1,397 रन बना चुके हैं जिनमें छह अर्धशतक शामिल हैं।

मॉरिस भी रहे महंगे खिलाड़ी : ऑस्ट्रेलिया के अलावा इंग्लैंड व वेस्टइंडीज के खिलाडि़यों का भी बोलबाला रहा। दक्षिण अफ्रीका के क्रिस मॉरिस तीसरे स्थान पर रहे, जिसे बेंगलूर ने 10 करोड़ में खरीदा, वहीं कैरेबियाई तेज गेंदबाज शेल्डन कॉटरेल ने चौथा स्थान हासिल किया, जिसे पंजाब ने 8.50 करोड़ में अपने नाम किया। इसके अलावा ऑस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज नाथन कूल्टर नाइल को मुंबई ने 8 करोड़, भारत दौरे पर शानदार बल्लेबाजी कर रहे शिमरोन हेटमायर को दिल्ली ने 7.75 करोड़, आइपीएल में 150 विकेट चटका चुके अनुभवी स्पिनर पीयूष चावला को चेन्नई ने 6.75 करोड़ और इंग्लैंड को पिछला 50 ओवर का विश्व कप जिताने वाले कप्तान इयान मोर्गन को कोलकाता ने 5.25 करोड़ में खरीदा।

अनुभवी भारतीय खिलाडि़यों को भी मिली अच्छी कीमत

नामचीन विदेशी क्रिकेटरों के बीच अनुभवी भारतीय खिलाडि़यों को भी अच्छी-खासी कीमत मिल गई। कोलकाता से मुक्त किए गए स्पिनर पीयूष चावला को चेन्नई ने उनके भारी अनुभव को देखते हुए 6.75 करोड़ की भारी कीमत पर खरीदा, वहीं कोलकाता में उनके साथी रहे रॉबिन उथप्पा को भी राजस्थान ने तीन करोड़ रुपये में खरीदा। तमिलनाडु के रहस्यमयी स्पिनर वरुण चक्रवर्ती को कोलकाता ने चार करोड़ में खरीदा। वरुण को पिछली नीलामी में पंजाब ने 8.4 करोड़ में अपने नाम किया था। पिछले साल सबसे ज्यादा 8.4 करोड़ में बिके जयदेव उनादकट को तीन करोड़ से संतोष करना पड़ा। राजस्थान ने ही उनादकट को फिर से खरीदा।

युवा तुर्क भी चमके

अगले साल दक्षिण अफ्रीका में होने वाले अंडर-19 क्रिकेट विश्व कप के कप्तान प्रियम गर्ग को हैदराबाद ने 1.90 करोड़ में खरीदा। हैदराबाद ने विराट सिंह के रूप में झारखंड के युवा बल्लेबाज को भी इतनी ही रकम में अपने नाम किया। यशस्वी जायसवाल को राजस्थान ने 2.4 करोड़ में खरीदा जबकि तेज गेंदबाज कार्तिक त्यागी को 1.30 करोड़ में राजस्थान रॉयल्स ने खरीदा।

आइपीएल के सबसे उम्रदराज खिलाड़ी को कोलकाता ने खरीदा

बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान की टीम कोलकाता नाइटराइडर्स ने आइपीएल के सबसे उम्रदराज सक्रिय खिलाड़ी प्रवीण तांबे पर भरोसा जताते हुए उन्हें 20 लाख रुपये में खरीदा है। 48 वर्षीय इस लेग स्पिनर ने राजस्थान रॉयल्स और सनराइजर्स हैदराबाद के लिए अब तक 33 मैच खेलकर 28 विकेट लिए हैं। तांबे ने 41 वर्ष की उम्र में 2013 में आइपीएल में पदार्पण किया था। 8 अक्टूबर, 1971 को मुंबई में जन्मे तांबे ने 2014 में इसी कोलकाता टीम के खिलाफ हैट्रिक लेकर सबका ध्यान अपनी ओर खींचा था। तांबे टी-10 लीग में भी शिरकत कर चुके हैं और इस फॉर्मेट में एक पारी में पांच विकेट चटकाने वाले पहले गेंदबाज हैं।

आस्ट्रेलियाई खिलाडि़यों के दबदबे के बीच ठंडे रहे लिन

नीलामी में आस्ट्रेलियाई खिलाडि़यों के दबदबे के बीच हमवतन क्रिस लिन ठंडे रहे। उन्हें वह कीमत नहीं मिल पाई, जिसकी उम्मीद की जा रही थी। अबू धाबी में हालिया संपन्न टी-10 लीग में शानदार प्रदर्शन करने वाले लिन पर अच्छी-खासी बोली लगने की उम्मीद थी। विदेशी खिलाडि़यों में उनका आधार मूल्य भी दो करोड़ रुपये का था लेकिन जब नीलामी की प्रक्रिया में उनका नाम आया तो आश्चर्यजनक रूप से किसी भी फ्रेंचाइजी ने उनमें खास दिलचस्पी नहीं दिखाई। मुंबई इंडियंस को वह आसानी से आधार मूल्य पर मिल गए।

आइपीएल के पिछले सत्र में खास प्रदर्शन नहीं कर पाने पर कोलकाता नाइटराइडर्स ने उन्हें मुक्त कर दिया था। इसके बाद अबू धाबी में लिन ने शानदार बल्लेबाजी कर सबका ध्यान अपनी ओर खींचा। उनके जबर्दस्त प्रदर्शन को देखते हुए युवराज सिंह ने यहां तक कह दिया था कि उन्हें छोड़कर कोलकाता ने भारी गलती की है। लिन ने 41 आइपीएल मैचों में 33.68 की औसत और 140.65 के स्ट्राइक रेट से 1,280 रन बनाए हैं।

नंबर गेम:

-2018 में 11.5 करोड़ और 2019 में 8.4 करोड़ रुपये में राजस्थान ने जयदेव उनादकट को खरीदा था। इस बार भी उन्हें राजस्थान ने तीन करोड़ रुपये देकर खरीदा। 
- 48 वर्ष 72 दिन की उम्र में बिकने वाले आइपीएल के सबसे उम्रदराज खिलाड़ी बने प्रवीण तांबे। 20 लाख में केकेआर ने खरीदा। 
-01 मैच इस घरेलू सत्र में रहस्यमयी स्पिनर वरुण चक्रवर्ती ने तमिलनाडु के लिए खेला है जिसमें उन्होंने तीन ओवर में बिना किसी विकेट के 35 रन लुटाए। इसके बावजूद केकेआर ने उन्हें चार करोड़ में खरीदा। 

प्रत्येक सत्र के सबसे महंगे खिलाड़ी
-2008, महेंद्र सिंह धौनी, भारत 6 करोड़ रुपये
-2009, फ्लिंटॉफ/पीटरसन, इंग्लैंड, 7.35 करोड़ रुपये
-2010, शेन बांड, न्यूजीलैंड, 5.33 करोड़ रुपये
-2011, गौतम गंभीर, भारत, 11 करोड़ रुपये
-2012, रवींद्र जडेजा, भारत, 9.72 करोड़ रुपये
-2013, ग्लेन मैक्सवेल, ऑस्ट्रेलिया, 5.3 करोड़ रुपये
-2014, युवराज सिंह, भारत, 14 करोड़ रुपये
-2015, युवराज सिंह, भारत, 16 करोड़ रुपये
-2016, शेन वॉटसन, ऑस्ट्रेलिया, 9.5 करोड़ रुपये
-2017, बेन स्टोक्स, इंग्लैंड, 14.5 करोड़ रुपये
-2018, बेन स्टोक्स, इंग्लैंड, 12.5 करोड़ रुपये
-2019, जयदेव उनादकट, भारत, 8.4 करोड़ रुपये
-2020, पैट कमिंस, ऑस्ट्रेलिया, 15.5 करोड़ रुपये

Posted By: Sanjay Savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस