नई दिल्ली, जेएनएन। India vs South Africa Ranchi test match: विराट कोहली (Virat Kohli) की कप्तानी में टीम इंडिया (Team India) ने एक नया इतिहास रचते हुए दक्षिण अफ्रीका (South Africa cricket team) की टीम को पहली बार तीन मैचों की टेस्ट सीरीज में क्लीन स्वीप करते हुए 3-0 से हराया। भारतीय क्रिकेट टीम (Indian cricket team) की इस जीत में पूरी टीम में बेहतरीन भूमिका निभाई।

दुनिया की नंबर एक टेस्ट टीम में ये साबित कर दिया कि आखिरकार क्यों वो इस स्थान के लिए सबसे बेस्ट हैं। इस टेस्ट सीरीज में बल्लेबाजों के साथ-साथ गेंदबाजों ने भी शानदार तरीके से अपना काम किया। तेज गेंदबाज हों या फिर स्पिनर सबने अपनी भूमिका को समझा और शानदार तरीके से टीम की रणनीति को मैदान पर अंजाम दिया। विकेट तो तेज गेंदबाज और स्पिनर दोनों ने ही निकाले पर बाजी मारी हमारी टीम के स्पिनर्स ने। 

तेज गेंदबाजों पर हावी रहे भारतीय स्पिनर्स

इसमें कोई शक नहीं कि तीन मैचों की टेस्ट सीरीज में भारतीय तेज गेंदबाजों का प्रदर्शन स्तरीय रहा, लेकिन स्पिनरों ने बाजी मारते हुए उनसे ज्यादा विकेट लिए और प्रभावशाली भी रहे। इस पूरे टेस्ट सीरीज के दौरान आर अश्विन (R Ashwin), रवींद्र जडेजा (Ravindra Jadeja) टीम के मुख्य स्पिनर थे वहीं तीसरे टेस्ट मैच में पहली बार शाहबाज नदीम (Shahbaz Nadeem) को मौका दिया गया। इन तीनों स्पिनर्स ने पूरी सीरीज के दौरान कुल 32 विकेट लिए जबकि तेज गेंदबाज जैसे कि मोहम्मद शमी (Mohammed Shami), इशांत शर्मा (Ishant Sharma), उमेश यादव (Umesh Yadav) ने मिलकर कुल 26 विकेट निकाले। 

भारतीय तेज गेंदबाज- 26 विकेट, औसत- 17.50, स्ट्राइक रेट- 35.2

भारतीय स्पिनर्स- 32 विकेट, औसत- 27.18, स्ट्राइक रेट- 59.9

स्पिनर व तेज गेंदबाजों का प्रदर्शन

इस टेस्ट सीरीज में व्यक्तिगत तौर पर सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज आर अश्विन रहे जिन्होंने कुल 15 विकेट लिए। दूसरे स्थान पर तेज गेंदबाज मो. शमी रहे और उन्होंने 13 शिकार किए। रवींद्र जडेजा ने तीन मैचों में 13 विकेट लिए, लेकिन वो इकानॉमी रेट के आधार पर शमी से पिछड़ गए। वहीं उमेश यादव ने दो मैचों में 11 विकेट हासिल किए।

पहली बार टीम इंडिया के लिए टेस्ट मैच खेलने वाले शाहबाज नदीम ने एक टेस्ट मैच में कुल 4 विकेट हासिल किए। इशांत शर्मा का प्रदर्शन इस टेस्ट सीरीज में कुछ खास नहीं रहा और वो 2 टेस्ट मैच में सिर्फ 2 सफलता ही हासिल कर पाए। वैसे इस टेस्ट सीरीज में विराट कोहली व रोहित शर्मा ने भी गेंदबाजी में अपने हाथ आजमाए और 3-3 ओवर फेंके, लेकिन उन्हें कोई सफलता नहीं मिली। 

Posted By: Sanjay Savern

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप