कैंडी, पीटीआइ: निलंबन के कारण तीसरे टेस्ट में शीर्ष स्पिनर रवींद्र जडेजा सेवाओं से वंचित भारतीय कप्तान विराट कोहली ने शुक्रवार को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आइसीसी) से अपील की कि खिलाड़ियों की आचार संहिता से जुड़े नियमों को लागू करने को लेकर अधिक निरंतरता हो।

कोहली ने कहा, ‘मुझे लगता है कि यहां से आगे बढ़ते हुए खिलाड़ियों को अधिक जागरूक होना चाहिए। उम्मीद है कि अब से दिशा-निर्देश समान होंगे, क्योंकि यह स्थिति के अनुसार बदलने नहीं चाहिए। अगर इसमें निरंतरता होती है तो मुझे लगता है कि आगे बढ़ते हुए यह अच्छा है, क्योंकि बेशक खिलाड़ियों को बेहतर पता होगा कि मैदान पर उन्हें कैसा बर्ताव करना है। इससे खेल के बेहतर होने में मदद मिलेगी।’

मालूम है कि दुनिया के नंबर एक टेस्ट गेंदबाज और ऑलराउंडर जडेजा को पिछले 24 महीने में छह नकारात्मक अंक मिलने के कारण एक मैच के लिए निलंबित किया गया है। उनका अपराध पिच पर दौड़ना और विपक्षी खिलाड़ी की तरफ खतरनाक तरीके से गेंद फेंकना है। इस निलंबन के कारण वह तीसरे टेस्ट में नहीं खेल पाए। निलंबन के संदर्भ में कोहली ने कहा, ‘सबसे पहले तो हमें यह बिल्कुल स्पष्ट करने की जरूरत है कि क्या चीजें इसके दायरे में आती हैं और मैदान पर रहते समय खिलाड़ी को क्या चीजें दिमाग में रखने की जरूरत है। मैदान पर काफी चीजें होती हैं जिनमें से कुछ आप मौके की गर्मी में कर देते हैं। लेकिन, आपको नहीं पता कि क्या करने पर आपके खाते में एक या दो या तीन अंक जुड़ जाएंगे। इसलिए मुझे लगता है कि आजकल इरादे पर गौर किया जाता है और खिलाड़ी को इसे ध्यान में रखना चाहिए। यह भले ही छोटी चीज है, लेकिन अगर इरादा कुछ गलत करने का है तो बेशक यह खिलाड़ी के खिलाफ जाता है।’

वनडे सीरीज खेलने में परेशानी नहीं : कोहली ने स्पष्ट किया कि उन्हें श्रीलंका के खिलाफ आगामी वनडे सीरीज खेलने में कोई दिक्कत नहीं है। कयास लगाए जा रहे हैं कि लंबे सत्र को ध्यान में रखते हुए उन्हें आराम दिया जा सकता है। उन्होंने कहा, ‘किसने कहा कि मैं नहीं खेल रहा हूं। मुझे नहीं पता कि यह बात किसने फैलाई, लेकिन मुङो खेलने में कोई परेशानी नहीं है।’

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Pradeep Sehgal

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस