संजय सावर्ण, नई दिल्ली। कोलंबो टेस्ट मैच में के दौरान एक तरफ जहां दोनों टीमों के कुछ बल्लेबाजों ने अपना जलवा दिखाया तो दोनों टीमों के कुछ गेंदबाजों की जमकर पिटाई भी हुई। दोनों टीमों के कुछ बल्लेबाजों ने अपने टेस्ट करियर का शतक लगाने में सफलता हासिल की तो दूसरी तरफ कुछ गेंदबाजों ने रन लुटाने में शतक लगा दिया। खैर, इन सबके बावजूद ये टेस्ट मैच ऐसा रहा जिसे हमेशा याद रखा जाएगा। इस मैच को जीतकर भारत ने श्रीलंका के खिलाफ तीन टेस्ट मैचों की सीरीज जीत ली। 

कोलंबो में इन बल्लेबाजों ने गाड़े झंडे

इस टेस्ट मैच में पहले बल्लेबाजी करने उतरी भारतीय टीम की तरफ से दो बल्लेबाजों ने शतक जड़ा। भारतीय टीम के मध्यक्रम के बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने 133 रन की पारी खेली और श्रीलंका के खिलाफ लगातार तीन टेस्ट मैचों में लगातार तीन शतक लगाए। इसके बाद टीम इंडिया की तरफ से अजिंक्य रहाणे ने भी अपने बल्ले का दम दिखाया और 132 रन बनाए। 

इस मैच में सबसे ज्यादा तारीफ करनी होगी श्रीलंका के उन दो बल्लेबाजों की जिन्होंने दवाब में अपनी टीम के लिए शतक लगाया। हालांकि ये दोनों अपनी टीम की हार को नहीं टाल सके लेकिन इनका शतक काफी खास रहा। श्रीलंका के 22 वर्षीय युवा बल्लेबाज अजंता मेंडिस ने फॉलोऑन खेलते हुए अपनी टीम के लिए शतक लगाया और 110 रन की पारी खेली। मेजबान टीम के बल्लेबाज दिमुथ करुणारत्ने ने भी साबित किया कि वो टीम के लिए कितने उपयोगी बल्लेबाज हैं और 141 रन की शानदार पारी खेली। 

इन गेंदबाजों ने लगाया शतक

कोलंबो टेस्ट मैच में रन लुटाने के मामले में दोनों ही टीमों के गेंदबाजों ने शतक लगाया। श्रीलंका की तरफ से मैच की पहली पारी में स्पिनर रंगना हेराथ ने 42 ओवर में 154 रन, दिलरुवान परेरा ने 40 ओवर में 147 रन जबकि मिलिंदा पुष्पकुमारा ने 38.2 ओवर 156 रन लुटाए। रन लुटाने के मामले में भारतीय गेंदबाज भी पीछे नहीं रहे। मैच की दूसरी पारी में भारतीय गेंदबाज रवींद्र जडेजा ने 39 ओवर में 152 रन दिए जबकि आर. अश्विन ने 37.5 ओवर में 132 रन लुटाए। यानी कुल मिलाकर श्रीलंका की तरफ से तीन तो भारत की तरफ से दो गेंदबाजों ने रन लुटाने के मामले में शतक लगा दिया।

कोलंबो टेस्ट में स्पिनर्स की हुई खूब पिटाई लेकिन विकेट भी इन्हीं के नाम रहा

कोलंबो टेस्ट मैच के दौरान सबसे ज्यादा पिटाई स्पिनर्स की ही हुई चाहे वो भारतीय टीम के हों या फिर श्रीलंका की टीम के लेकिन विकेट लेने के मामले में स्पिनर्स ही आगे रहे। दोनों टीमों के स्पिनर्स जैसे की रंगना हेराथ, दिलरुवान परेरा, मिलिंदा पुष्पकुमारा, जडेजा और अश्विन इन सभी ने जमकर रन लुटाए लेकिन अपनी-अपनी टीमों के लिए सबसे ज्यादा विकेट भी इन स्पिनर्स ने ही निकाले। श्रीलंका के स्पिनर्स ने पहली पारी में 9 में से कुल 7 विकेट लिए। वहीं भारतीय टीम के स्पिनर्स आर. अश्विन ने दोनों पारियों में 7 जबकि जडेजा ने भी कुल 7 विकेट लिए। 

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sanjay Savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस