नई दिल्ली, जेएनएन। India vs England ICC World Cup 2019: भारतीय टीम को आखिरी के 10 ओवर्स में 10.45 की औसत से रन की दरकार थी। इस वक्त तेजी से रन बना रहे रिषभ पंत आउट हो गए। इसके बाद क्रीज पर आए बेस्ट फिनिशर महेंद्र सिंह धौनी। फैंस को उम्मीद थी कि ऐसी स्थिती में वह ताबड़तोड़ बल्लेबाजी करेंगे। हालांकि, हुआ इसके बिल्कुल विपरीत। वह सिंग्लस और डबल्स में रन बनाने लगे। किसी को भी उनका तेज न खेलने का फैसला समझ में नहीं आया। यहां तक की कमेंट्री कर रहे पूर्व कप्तान सौरव गांगुली का भी यही सवाल था। आखिर धौनी शॉट्स मारने का प्रयास क्यों नहीं कर रहे।

India vs England World Cup 2019: धौनी की बल्लेबाजी से चिंतित कप्तान कोहली, कहा- ऐसे करेंगे सुधार

इस सवाल का सटीक जवाब तो महेंद्र सिंह धौनी ही दे सकते हैं। हालांकि, एक ऐसा एंगल भी है जिस पर लोगों का ध्यान जाना चाहिए। धौनी जब बल्लेबाजी करने आए, तब पिच काफी धीमी हो चुकी थी। बल्ले पर गेंद आसानी से नहीं आ रही थी। शॉट्स मारने की कोशिश में रोहित शर्मा, पंत और हार्दिक पंड्या अपना विकेट गंवा चुके थे। ऐसे में धौनी ने जीत से हटकर नेट रनरेट पर अपना फोकस किया। वह मैच करीब तक ले जाना चाहते थे, ताकि भारतीय टीम का नेट रनरेट सही रहे।

ICC World Cup 2019 Ind vs Eng: इंग्लैंड से हार के बाद धौनी और जाधव हुए ट्रोल, फैन्स ने खूब उड़ाया मजाक!

फिलहाल टीम इंडिया के लिए नेट रनरेट उतना मायने नहीं रखता। भारतीय टीम को सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई करने के लिए बाकि बचे दो मैचों मे से किसी एक को जीतना होगा। अगर टीम इंडिया हार जाती है तो ऐसे में मामला नेट रनरेट पर आकर अटक जाएगा। धौनी इसी बात को दिमाग में लेकर चल रहे थे। धौनी ने कई बार ऐसी परिस्थियों में भारत को मैच जिताए हैं। वह खेल की अच्छी समझ रखते हैं। ऐसे में इस प्रकार की पारी बिना किसी उद्देश्य से खेलना समझ में नहीं आता। इस मामले में विराट भी धौनी के बचाव में बोल चुके हैं। उनका भी मानना था कि गेंद बल्ले पर नहीं आ रही थी।

Aus-vs-Ind

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस