नई दिल्ली, जेएनएन। भारत और न्यूज़ीलैंड के बीच पांचवें वनडे मैच में एम एस धौनी ने अपनी चालाकी से मैच को टीम इंडिया की तरफ मोड़ दिया। धौनी ने इस मैच में एक बार फिर से दिखाई कि वो दुनिया के सबसे चतुर खिलाड़ियों में से एक है। उन्होंने भले ही इस मैच में बल्ले से कुछ खास योगदान न दिया हो, लेकिन उन्होंने अपनी चालाक विकेटकीपिंग से मैच में टीम इंडिया का पलड़ा भारी कर दिया।

धौनी ने ऐसे दिखाई चालाकी

न्यूज़ीलैंड की पारी के 37वें ओवर में धौनी ने दिखाया कि उनके जैसा दिमाग किसी के पास नहीं है। केदार जाधव के इस ओवर में माही ने अपनी चतुराई से खतरनाक जिम्मी नीशम को रन आउट कर दिया। दरअसल नीशम 32 गेंदों पर 44 रन बनाकर खेल रहे थे और वो न्यूज़ीलैंड को जीत की तरफ ले जा रहे थे। वो सभी भारतीय गेंदबाज़ों की जमकर पिटाई कर रहे थे। तभी रोहित ने गेंद केदार जाधव को थमाई और ओवर से पहले धौनी ने जाधव से कुछ बात की। इस ओवर की दूसरी गेंद पर जाधव ने नीशम के सामने एलबीडब्ल्यू की जोरदार अपील की। सभी भारतीय खिलाड़ी अपील कर रहे थे और इसी बीच नीशम रन लेने के लिए थोड़ा आगे बढ़े। इतने में ही धौनी ने फूर्ती से गेंद उठाते हुए स्टंप्स की ओर थ्रो करते हुए गिल्लियां गिराई और नीशम को पवेलियन की राह दिखाई। धौनी के इस मूव को देखने के बाद न सिर्फ नीशम बल्कि भारतीय खिलाड़ी भी चौंक गए। हालांकि कुछ ही क्षणों में सभी को समझ आ गया कि धौनी ने अपने दिमाग के बल पर इस मैच को भारत की झोली में डाल दिया है।

(देखें, धौनी की चतुराई का वीडियो) 

ऐसा रहा मैच का हाल

इस मैच में टीम इंडिया ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी का फैसला किया। भारत की शुरुआत खराब रही और टीम इंडिया ने 18 रन पर ही चार विकेट गंवा दिए। इन चार शुरुआती झटकों में धौनी का विकेट भी शामिल रहा। धौनी एक रन बनाकर बोल्ट की गेंद पर बोल्ड हुए। इसके बाद रायुडू, विजय और हार्दिक की पारियों की बदौलत भारतीय टीम 252 रन के स्कोर तक पहुंची। रायुडू ने 90 रन बनाए, तो वहीं विजय और पांड्या ने 45-45 रन की पारी खेली।

कीवी टीम को मिली 253 रन का लक्ष्य

253 रन का पीछा करते हुए न्यूज़ीलैंड को 18 रन के स्कोर पर पहला झटका लगा। निकोल्स 08 रन बनाकर आउट हुए। इसके बाद थोड़े-थोड़े अंतराल पर कीवी टीम अपने विकेट गंवाती गई। कप्तान केन विलियमसन और टॉम लाथम ने एक साझेदारी जरुर की, लेकिन जाधव ने इस साझेदारी को तोड़ दिया। इसके बाद चहल ने लाथ का भी काम तमाम कर दिया। इसके बाद कॉलिन डी ग्रैंडहोम को भी चहल ने आउट किया। इसी बीच जिम्मी नीशम ने एक छोर को थामे रखा और वो तेज़ी से रन बनाने लग गए। वो सभी भारतीय गेंदबाज़ों की पिटाई कर रहे थे और मैच को भारत की पकड़ से दूर ले कर जा रहे थे, लेकिन तभी धौनी ने अपनी चतुराई से नीशम की पारी पर ब्रेक लगा दिया। इसके बाद न्यूज़ीलैंड की पूरी पारी 44.1 ओवर में 217 रन पर सिमट गई और भारत ने इस मैच को 35 रन से जीतने के साथ ही सीरीज़ भी 4-1 से जीत ली।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Pradeep Sehgal

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस