नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। इंग्लैंड क्रिकेट टीम ने बेन स्टोक्स की कप्तानी में न्यूजीलैंड की टीम को तीन मैचों की टेस्ट सीरीज में पूरी तरह से धो डाला और 3-0 से इस सीरीज पर कब्जा कर लिया। इस टेस्ट सीरीज के बाद अब इंग्लैंड को एक जुलाई से भारत के खिलाफ एक टेस्ट मैच खेलना है जो पिछले साल खेले गए पांच मैचों की टेस्ट सीरीज का हिस्सा है। पिछले साल उसमें से चार टेस्ट मैच खेले गए थे जिसमें भारतीय टीम ने 2-1 की बढ़त बना ली थी। अब इस टेस्ट मैच में अगर इंग्लैंड को जीत मिल जाती है तो टेस्ट सीरीज बराबर हो जाएगी, लेकिन अगर मैच ड्रा हो जाता है या फिर भारत जीत जाता है तो दोनों ही सूरत में इंग्लैंड को टेस्ट सीरीज गंवानी होगी। 

इंग्लैंड को हराना भारत के लिए नहीं होगा आसान

वैसे इंग्लैंड की टीम इस वक्त जिस तरह की फार्म में है और न्यूजीलैंड को इस टीम ने जिस तरह से तीनों टेस्ट मैचों में हराया है उसे देखते हुए भारत के लिए यह आसान नहीं होने वाला है। इंग्लैंड के हक में कई सारी बातें हैं जिसमें से पहली ये कि वो अपनी धरती पर खेलेंगे तो दूसरी बात ये कि ये टीम पूरी तरह से टेस्ट मोड में है और लगातर टेस्ट मैच खेल रही है। वहीं भारतीय टीम इंग्लैंड की धरती पर खेलेगी और वहां की कंडीशन हमेशा से ही टीम इंडिया के लिए चुनौती रही है। दूसरी तरफ टीम के अहम खिलाड़ी रोहित शर्मा के खेलने पर संशय है साथ ही अब तक ये भी तय नहीं हो पाया है कि कप्तानी कौन करेगा। इन सबका असर टीम के प्रदर्शन पर साफ तौर पर पड़ेगा। 

जो रूट और बेयरस्टो भारत के लिए बन सकते हैं बड़ी चिंता

इंग्लैंड के दो बल्लेबाज जो रूट और जानी बेयरस्टो ने न्यूजीलैंड के खिलाफ तीन मैचों की टेस्ट सीरीज में खूब रन बनाए हैं और अच्छी फार्म में हैं। ये दोनों बल्लेबाज भारत के लिए सबसे बड़ी मुश्किल बन सकते हैं। जो रूट ने कीवी टीम के खिलाफ 3 मैचों की 6 पारियों में 99 की औसत से दो शतक और एक अर्धशतक की मदद से 396 रन बनाए थे। वहीं जानी बेयरस्टो की बात करें तो उन्होंने तीन मैचों की 6 पारियों में 78.80 की औसत से दो शतक और एक अर्धशतक की मदद से 394 रन बनाए थे। बेयरस्टो तो इस टेस्ट सीरीज में टी20 क्रिकेट की तरह से बल्लेबाजी करते हुए देखे गए थे। 

Edited By: Sanjay Savern