नई दिल्ली, आनलाइन डेस्क। एजबेस्टन टेस्ट मैच की पहली पारी में टीम इंडिया के युवा विकेटकीपर-बल्लेबाज रिषभ पंत और आलराउंडर रवींद्र जडेजा ने शतकीय पारी खेलकर एक समय संघर्ष कर रहे टीम इंडिया को बेहद मजबूत स्थिति में ला दिया।

रिषभ पंत ने इस टेस्ट मैच की पहली पारी में 146 रन बनाए तो वहीं रवींद्र जडेजा ने 104 रन की पारी खेली और भारतीय टीम ने पहली पारी में 416 रन का स्कोर खड़ा किया। पंत व जडेजा के बीच इस मैच में पहली पारी में छठे विकेट के लिए 222 रन की रिकार्ड शतकीय साझेदारी भी हुई। 

इंग्लैंड में पहली बार टेस्ट में दो बाएं हाथ के भारतीय बल्लेबाजों ने एक ही पारी में लगाया शतक

भारतीय टेस्ट क्रिकेट इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ जब दो बाएं हाथ के बल्लेबाजों ने इंग्लैंड में किसी टेस्ट मैच की एक पारी में शतक लगाया। हालांकि भारत की तरफ से ऐसा तीसरी बार हुआ जब दो बाएं हाथ के बल्लेबाजों ने एक ही पारी में शतक लगाया। भारत की तरफ से सबसे पहली बार 1999 में न्यूजीलैंड के खिलाफ अहमदाबाद में एस रमेश और सौरव गांगुली ने एक ही पारी में शतक लगाया था।

वहीं इसके बाद साल 2007 में बेंगलुरु में पाकिस्तान के खिलाफ सौरव गांगुली और युवराज सिंह ने एक ही पारी में शतक लगाया था। वहीं इसके 15 साल के बाद अब 2022 में बर्मिंघम में इंग्लैंड के खिलाफ रिषभ पंत और रवींद्र जडेजा ने ऐसा कमाल कर दिखाया। 

टेस्ट की एक पारी में भारत की तरफ से शतक लगाने वाले बाएं हाथ के बल्लेबाज-

एस रमेश (110)  और सौरव गांगुली (125) v NZ Ahmedabad 1999

सौरव गांगुली (239) और युवराज सिंह (169) v Pak Bengaluru 2007

रिषभ पंत (146) और रवींद्र जडेजा (104) v Eng Birmingham 2022 

Edited By: Sanjay Savern