नई दिल्ली, [जागरण स्पेशल]। भारतीय टीम में शामिल किए गए पंजाब के युवा ओपनर शुभमन गिल को घरेलू टूर्नामेंट्स में लगातार किए जा रहे शानदार प्रदर्शन का इनाम मिल गया है। उन्हें लोकेश राहुल की जगह पर  न्यूजीलैंड दौरे के लिए भारतीय टीम में शामिल किया गया है। गिल लगातार अपने बल्ले से शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं। उऩ्होंने अंडर-19 विश्व कप, भारत ए टीम और रणजी ट्रॉफी में धमाकेदार प्रदर्शन कर चुके इस युवा क्रिकेटर से अब फैंस को बड़े स्तर पर भी प्रभावी प्रदर्शन की उम्मीद रहेगी।

आपको बता दें कि शुभमन गिल आइपीएल में कोलकाता नाइट राइडर्स की तरफ से खेलते हैं और उन्होंने पिछले साल यानि की आइपीएल 2018 में शानदार प्रदर्शन किया था।

गिल के क्रिकेट करियर के सफर पर एक नजर...

शुभमन गिल का जन्म 8 फरवरी 1999 को पंजाब के फजिल्का में किसान परिवार में हुआ। उनके पिता लखविंदर क्रिकेटर बनना चाहते थे लेकिन वो नहीं बन पाए तो उन्होंने बेटे शुभमन को क्रिकेटर बनाने में हरसंभव प्रयास किया। वो बेटे के करियर की खातिर मोहाली शिफ्ट हुए थे।

गिल ने 2017 के अंत में रणजी ट्रॉफी में पंजाब के लिए अपना फर्स्ट क्लास डेब्यू किया। पहले ही मैच में उन्होंने अर्धशतक जमाया तो दूसरे मुकाबले में उन्होंने 129 रन की ताबड़तोड़ पारी खेली और फिर उन्हें अंडर 19 विश्व कप के लिए खेलने वाली टीम में चुन लिया गया था।

भारत ने 2018 में अंडर-19 विश्व कप जीता और शुभमन की इस जीत में अहम भूमिका रही और वे मैन ऑफ द टूर्नामेंट चुने गए। न्यूजीलैंड में हुए इस विश्व कप में उन्होंने 372 रन बनाए। परंपरागत प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान के खिलाफ शतक लगाकर वे फैंस के दिलों पर राज करने लगे थे।

तिहरा शतक भी जमा चुके हैं शुभमन

2014 में शुभमन ने पंजाब इंटर डिस्ट्रिक्ट अंडर-16 टूर्नामेंट में 351 रन की बड़ी पारी खेली थी। इसके साथ ही उन्होंने निर्मल सिंह के साथ मिलकर 587 रन की रिकॉर्ड ओपनिंग साझेदारी भी की थी। पंजाब के लिए अंडर-16 के अपने डेब्यू मैच में ही उन्होंने विजय मर्चेंट ट्रॉफी में दोहरा शतक जड़ दिया था।

शुभमन ने पंजाब की तरफ से फरवरी 2017 में 17 साल की उम्र में विजय हजारे ट्रॉफी में विदर्भ के खिलाफ लिस्ट ए डेब्यू किया। वे इस मैच में प्रभावी प्रदर्शन नहीं कर पाए लेकिन उन्होंने इसके बाद से शानदार प्रदर्शन किया।

गिल अभी तक 36 लिस्ट ए मैचों में 47.78 की औसत से 1529 रन बना चुके हैं। उन्होंने इसमें 4 शतक और 7 फिफ्टी लगाई हैं। उन्होंने नवंबर 2017 में बंगाल के खिलाफ रणजी ट्रॉफी डेब्यू किया। वे 9 रणजी मैचों में 77.78 की औसत से 1089 रन बना चुके हैं। वे 3 शतक और 7 अर्धशतक लगा चुके हैं।

अंडर-19 विश्व कप से मिली आइपीएल में जगह

अंडर-19 विश्व कप में धमाकेदार प्रदर्शन के चलते गिल को आइपीएल 2018 के लिए कोलकाता नाइटराइडर्स ने अनुबंधित किया। चार टीमें उन्हें हासिल करना चाहती थी लेकिन केकेआर ने 1.80 करोड़ रु. खर्च कर खरीद लिया। उन्होंने 200 से ज्यादा रन बनाकर अपनी उपयोगिता साबित की।

रणजी ट्रॉफी में गिल तमिलनाडु के खिलाफ 199 रनों पर नाबाद रहे। वे इसी के साथ अपने आदर्श राहुल द्रविड़ के साथ फर्स्ट क्लास क्रिकेट में 199 रनों पर नाबाद रहने वाले चुनिंदा क्रिकेटरों के खास समूह में शामिल हो गए। द्रविड़ 2003 में एडिलेड टेस्ट में 199 रनों पर नाबाद रहे थे।

गिल ने वर्तमान रणजी सत्र में धमाकेदार प्रदर्शन कर सेलेक्टर्स को ध्यान खींचा। उन्होंने 10 पारियों में 104 की औसत से 728 रन बनाए। 

लगातार दो बार जीता ये खिताब

लगातार रनों का अंबार लगाते हुए बड़ी-बड़ी पारियां खेलने के चलते ही शुभमन गिल को दो बार बीसीसीआइ के बेस्ट जूनियर क्रिकेटर का अवॉर्ड मिला। गिल ने ये अवॉर्ड 2013-14 और 2014-15 में अपने नाम किया। खास बात ये है कि इस अवॉर्ड सेरेमनी के दौरान उन्हें अपने आइडल विराट कोहली के साथ मंच शेयर करने का मौका भी मिला।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Pradeep Sehgal

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप