नई दिल्ली, जेएनएन। नागपुर वनडे मैच के दौरान भारतीय क्रिकेट टीम के ओपनर बल्लेबाज रोहित शर्मा पर तमाम क्रिकेट फैंस की नजरें टिकी थीं। इसकी सबसे बड़ी वजह ये भी थी कि नागपुर के इस मैदान पर रोहित का रिकॉर्ड काफी अच्छा रहा था। इतने शानदार रिकॉर्ड को देखते हुए सबकी उम्मीदें उनसे बंधी थी कि वो एक बार फिर से यहां अच्छी पारी खेलेंगे लेकिन इस घुरंधर बल्लेबाज ने सबको निराश कर दिया। 

दूसरे वनडे में पहले बल्लेबाजी के लिए भारतीय टीम मैदान पर आई। रोहित ने पारी की शुरुआत की लेकिन सिर्फ छह गेंदों का सामना करने के बाद वो शून्य पर आउट होकर पवेलियन लौट गए। शून्य पर आउट होते ही रोहित के नाम पर एक ऐसा रिकॉर्ड दर्ज हो गया जो भारतीय धरती पर उनके साथ कभी नहीं हुआ था। रोहित जब पारी की शुरुआत करने आए तब वो लय में नहीं दिख रहे थे। पारी का पहला ओवर फेंक रहे पैट कमिंस की पहली पांच गेंदों का सामना तो उन्होंने कर लिया लेकिन इस ओवर की आखिरी गेंद पर वो अपना कैच एडम जैम्पा के हाथों में थमा बैठे। इस मैच में आउट होने के बाद रोहित शर्मा भारतीय सरजमीं पर पहली बार शून्य पर आउट हुए। वनडे क्रिकेट में तीन दोहरा शतक लगा चुके रोहित की इस तरह की बल्लेबाजी ने सबको निराश किया। 

दूसरे वनडे में भारतीय टीम ने कप्तान विराट की 116 रन की शतकीय पारी के दम पर 250 रन बनाए और इसके जबाव में मेहमान टीम 242 रन पर ऑल आउट हो गई। भारत को इस मैच में आठ रन से जीत मिली। फिलहाल वनडे सीरीज में भारत ने ऑस्ट्रेलिया पर 2-0 की बढ़त बना ली है। इस मैच में कमाल की बात ये रही कि भारतीय टीम के दो बल्लेबाज जिनका रिकॉर्ड इस मैदान पर काफी अच्छा रहा था वो नहीं चल पाए। इसमें से एक रोहित तो थे ही धौनी भी इस मुकाबले में शून्य पर आउट हो गए। 

Posted By: Sanjay Savern