नई दिल्ली, जेएनएन। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले वनडे मैच में भारतीय टीम का स्कोर 300 के पार नहीं जा सका। टीम इंडिया ने इस मैच की पहली पारी में 49.1 ओवर में 255 रन बनाए। भारतीय टीम को इस स्कोर तक ले जाने में ओपनर बल्लेबाज शिखर धवन और केएल राहुल का सबसे बड़ा योगदान रहा। धवन ने इस मैच में 74 रन की पारी खेली जबकि राहुल अर्धशतक से चूक गए और 47 रन की पारी खेली। इन दोनों के बीच दूसरे विकेट के लिए शतकीय साझेदारी हुई। 

इस दशक के पहले वनडे मैच में भारत के लिए शतकीय साझेदारी

इस दशक का अपना पहला वनडे मैच भारत ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेला और इस मैच में भारत के लिए पहली शतकीय साझेदारी धवन व राहुल ने की। इसके साथ-साथ इस दशक में भारत के लिए पहले वनडे मैच में शतकीय साझेदारी करने वाले ये दोनों पहले बल्लेबाज बने। धवन व राहुल के बीच दूसरे विकेट के लिए 121 रन की पार्टनरशिप हुई। इस मजबूत पार्टनरशिप के दम पर ही टीम इंडिया का स्कोर 255 तक पहुंचा। आइए एक नजर डालते हैं वनडे में पिछले दशक की पहली शतकीय साझेदारी पर। 

पहला 100+ पार्टनरशिप भारत के लिए वनडे में

1990s - सचिन तेंदुलकर/किरण मोरे

2000s - राहुल द्रविड़/सौरव गांगुली

2010s - महेंद्र सिंह धौनी/विराट कोहली

2020s - शिखर धवन/केएल राहुल

दमदार बल्लेबाज हैं लोकेश राहुल

टीम इंडिया की तरफ से इस मुकाबले को मिलाकर पिछले छह मैचों में जो शतकीय साझेदारी हुई है उसमें से दूसरे साझेदार के रूप में केएल राहुल पांच बार शामिल रहे हैं। इससे पता लगता है कि केएल राहुल टीम इंडिया के लिए बल्लेबाज के तौर पर कितनी अहम भूमिका निभा रहे हैं। राहुल पिछले महीने से अच्छी क्रिकेट खेल रहे हैं और लगातार रन बना रहे हैं। इस मैच में भी उन्होंने 47 रन की उपयोगी पारी खेली। 

भारत के लिए छह आखिरी 100+ रन की साझेदारी

केएल राहुल/शिखर धवन विरुद्ध ऑस्ट्रेलिया

केएल राहुल/रोहित शर्मा विरुद्ध वेस्टइंडीज

केएल राहुल/रोहित शर्मा विरुद्ध वेस्टइंडीज

श्रेयस अय्यर/रिषभ पंत विरुद्ध वेस्टइंडीज

केएल राहुल/रोहित शर्मा विरुद्ध वेस्टइंडीज

केएल राहुल/विराट कोहली विरुद्ध वेस्टइंडीज

Aus-vs-Ind

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस