नई दिल्ली, जेएनएन। भारतीय क्रिकेट टीम का ऑस्ट्रेलिया दौरा एक बड़ी हार के साथ शुरू हुआ। शुक्रवार को सिडनी में खेले गए पहले वनडे में भरतीय टीम के सामने ऑस्ट्रेलिया ने 375 रन का विशाल लक्ष्य रखा। टीम इंडिया निर्धारित 50 ओवर में 8 विकेट पर 308 रन ही बना पाई। सीरीज के पहले मुकाबले में 66 रन की जीत के साथ मेजबान ने 1-0 की बढ़त हासिल की।

इस मैच में टीम इंडिया के बड़े बल्लेबाज नाकाम रहे लेकिन हार्दिक पांड्या ने 90 रन की शानदार पारी खेली। बतौर बल्लेबाज टीम में शामिल किए गए इस बल्लेबाज ने 76 गेंद पर 7 चौके और 4 छक्के की मदद से 90 रन की अहम पारी खेली। हार्दिक की इस पारी की बदौलत ही टीम इंडिया पहले वनडे में लाज बचाने में कामयाब रही। यह भारत की तरफ से इस मैच में खेली गई किसी भी बल्लेबाज की सबसे बड़ी पारी थी।

वार्नर के खेल भावना को आईसीसी ने सराहा

भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले गए इस मुकाबले में कुछ ऐसा देखने को मिला जिसे इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल ने भी सराहा। जमकर बल्लेबाज कर रहे हार्दिक पांड्या के जूते के फीते को ऑस्ट्रेलिया के ओपनर डेविड वार्नर ने बांध कर खेल भावना का परिचय दिया। इस वीडियो को आईसीसी ने अपने ट्विटर पेज पर शेयर किया और खेल भावना का परिचय देने वाले दोनों खिलाड़ियों की तारीफ की।

भारत की पारी के 31.3 ओवर में जब हार्दिक 77 रन पर बल्लेबाजी कर रहे थे तो उनके जूता का फीता खुल गया। उन्होंने पास में फील्डिंग कर रहे ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज वार्नर से मदद मांगी। एक बेहतर मेजबान और शानदार खिलाड़ी होने का परिचय देते हुए वार्नर ने हार्दिक के जूते के फीते को बांधा। इसके बाद भारतीय बल्लेबज ने पंच कर ऑस्ट्रेलियाई दिग्गज का आभार जताया।

 

Aus-vs-Ind

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021