नई दिल्ली, जेएनएन: ओलंपिक में क्रिकेट शामिल होता है तो भारत के लिए मेडल की संख्या बढ़ने के पूरे-पूरे आसार हैं। लेकिन आपको यकीन नहीं होगा की बीसीसीआइ नहीं चाहता कि ऐसा हो। आपको यकीन नहीं हो रहा होगा, लेकिन ऐसा है। ओलंपिक में क्रिकेट को शामिल करने के लिए इस बार जब आइसीसी खुद प्रयास कर रही है तो ऐसे में भारतीय क्रिकेट को चलाने वाले बीसीसीआइ ने अड़ियल रुख अपना लिया है। जिसकी वजह से क्रिकेट को ओलंपिक में शामिल करने में दिक्कतें आ रही हैं।

आइसीसी क्रिकेट को ओलंपिक में शामिल करवाने की लिए पुरज़ोर कोशिश कर रहा है। लेकिन अगर इसमें कोई सबसे बड़ा रोड़ा बन रहा है तो वो है बीसीसीआइ। दरअसल बीसीसीआइ, ओलंपिक में शामिल नहीं होना चाहती। आइसीसी और आईओसी टी-20 क्रिकेट को ओलंपिक में शामिल करना चाहते हैं। बीसीसीआइ इसके लिए सहमत नहीं है।

इन वजहों से सहमत नहीं हैं बीसीसीआइ

बीसीसीआइ के ओलंपिक में शामिल न होने का मुख्य कारण उसकी स्वायत्ता खत्म है। बीसीसीआइ नहीं चाहती कि उसकी स्वायत्ता पर कोई खतरा उत्पन्न हो यही उसके विरोध का मुख्य कारण है। बीसीसीआइ के विरोध का दूसरा मुख्य कारण राजस्व  है, अगर बीसीसीआइ आईओए में शामिल होता है तो उसे अपना राजस्व बाँटना होगा जो बीसीसीआइ बिल्कुल भी नहीं चाहता।

आईओसी की ये भी है बड़ी शर्त

आइसीसी, बीसीसीआइ को सहमत करने के लिए सभी कोशिशें कर रहा है। अंतर्राष्ट्रीय ओलंपिक संघ ने ओलंपिक खेलों में क्रिकेट को शामिल करने के लिए आइसीसी से बड़ी टीमों और उसके खिलाडियों के खेलने का आश्वासन माँगा है। ऐसे में आइसीसी के लिए भारत के बिना एक कदम चलना भी मुश्किल है। आईओसी पहले ही साफ़ कर चुका है कि जब तक बड़ी टीमों और उसके बड़े खिलाडियों के खेलने आश्वासन नहीं मिलता आईओसी, आइसीसी के ऐसे किसी प्रस्ताव पर विचार नहीं करेगा?

पहले भी ओलंपिक में शामिल हो चुका है क्रिकेट

आइसीसी के पास सितम्बर तक का समय है जिसके अंदर-अंदर उसे आईओसी को अपना फैसला बताना है ताकि इसके आगे कि प्रक्रिया को पूरा किया जा सके। सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित प्रशासकों कि समिति ने बीसीसीआइ के सीईओ राहुल जौहरी से क्रिकेट को ओलंपिक में शामिल करने संबंधित रिपोर्ट मांगी है। बीसीसीआइ अगर सहमत होता है तो 2024 के ओलंपिक में क्रिकेट को शामिल किया जा सकता है। ओलंपिक में क्रिकेट का आयोजन 1990 पेरिस ओलंपिक में किया गया था। 2024 पेरिस में होने वाला ओलंपिक एक बार फिर से ओलंपिक में क्रिकेट का वापसी स्थल बन सकता है।

क्रिकेट की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

अन्य खेलों की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Pradeep Sehgal