नई दिल्ली, जेएनएन। IPL 2019 सीजन खत्म हो चुका है और अब टीम इंडिया के खिलाड़ी इंग्लैंड में होने वाले वनडे विश्व कप की तैयारियों में जुट जाएंगे। भारत को विश्व कप से ठीक पहले किसी वनडे सीरीज में खेलने का मौका मिला होता तो ये टीम के हित में जरूर होता, लेकिन ऐसा नहीं हो सका। कुछ देश जैसे इंग्लैंड, पाकिस्तान, बांग्लादेश, वेस्टइंडीज ये सब इस वक्त वनडे सीरीज  खेल रहे हैं जिसका उन्हें फायदा जरूर होगा और अब ये देखना है कि आइपीएल खेलने का भारतीय टीम के खिलाड़ियों को कितना फायदा होता है। 

भारत के वो 15 खिलाड़ी जो विश्व कप खेलने इंग्लैंड जा रहे हैं वो सब के सब आइपीएल खेल रहे थे। डेढ़ महीने चले इस लीग में इन 15 में से कुछ खिलाड़ियों ने अपने प्रदर्शन से उम्मीदें बंधाई हैं तो कुछ ने निराश भी किया। वैसे खेल का प्रारूप जो भी हो खिलाड़ी अगर अच्छा प्रदर्शन करता है तो उसका उत्साह सातवें आसमान पर रहता है। इसमें कोई शक नहीं कि जिन्होंने आइपीएल में अच्छा प्रदर्शन किया है वो अपने बढ़े हुए आत्मविश्वास के साथ इंग्लैंड जाएंगे पर जिनका प्रदर्शन निराश करने वाला रहा उन पर दवाब होगा। वैसे भारतीय खिलाड़ियों के लिए दो चुनौती होगी। पहली ये कि वो किस तरह से टी 20 प्रारूप में इतने मैच खेलने के बाद खुद को वनडे के मुताबिक ढ़ालेंगे और दूसरी कि इतने कम वक्त में भारतीय खिलाड़ी इंग्लैंड की कंडीशन के साथ सामंजस्य किस तरह से बिठा पाएंगे। 

चलिए चुनौती अपनी जगह है पर अब बात कर लेते हैं कि आइपीएल में किया गया प्रदर्शन किस तरह से टीम इंडिया के लिए फायदेमंद साबित होगा और हमारे 15 धुरंधर जो चार वर्ष के बाद एक बार फिर से तीसरी बार विश्व कप खिताब जीतने के लिए जोर लगाएंगे उनका प्रदर्शन इस लीग में कैसा रहा। सबसे पहले शुरुआत करते हैं विश्व कप टीम में चुने गए विवादास्पद खिलाड़ी विजय शंकर की। शंकर ने इस सीजन में ऑलराउंडर के तौर पर थोड़ा सा निराश किया। इस बार दूसरे विकेटकीपर के तौर पर टीम में शामिल किए गए दिनेश कार्तिक ने भी काफी निराश किया। वहीं भारत के चाइनामैन जिन पर टीम को काफी भरोसा है यानी कुलदीप यादव ने तो लुटिया ही डूबो दी। कुलदीप के प्रदर्शन ने तो सबको ही अचंभे में डाल दिया। टीम के अन्य स्पिनर युजवेंद्र चहल व रवींद्र जडेजा ने तो कमाल किया। चहल ने इस सीजन में बैंगलोर की तरफ से खेलते हुए 14 मैचों में 18 विकेट ले डाले तो जडेजा ने 16 मैचों में 15 विकेट लिए। यानी इन दोनों के प्रदर्शन ने संतोष बंधाया। 

भारतीय तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह व मो. शमी ने अच्छी गेंदबाजी की और साबित किया कि वो इंग्लैंड में भारत के खेवनहार बन सकते हैं। भुवी ने इस बार ज्यादा प्रभावित नहीं किया लेकिन उन्होंने 15 मैचों में 13 विकेट लिए। हार्दिक पांड्या की इस बार जितनी तारीफ कि जाए वो कम है। उन्होंने बल्ले और गेंद दोनों से ही खुद को साबित कर दिया। हार्दिक ने 402 रन बनाए और कुल 14 विकेट लिए। 

भारतीय ओपनर्स बल्लेबाजों की बात करें तो रोहित शर्मा इस बार ज्यादा बड़ा स्कोर तो नहीं कर पाए लेकिन 15 मैचों में 405 रन बनाकर उन्होंने उम्मीदें जरूर कायम रखी। धवन ने कमाल का खेल दिखाया और अपने फॉर्म का नमूना पेश करते हुए 16 मैचों में 521 रन बना डाले। लोकेश राहुल ने कमाल का प्रदर्शन किया और 14 मैचों में 593 रन बनाकर खुद को साबित किया। वहीं धौनी ने 15 मैचों में 416 जबकि विराट ने 14 मैचों में 464 रन बनाए। केदार जाधव इस सीजन में गेंदबाजी नहीं कर पाए जबकि वो सीजन के आखिरी में चोटिल होकर लीग से ही बाहर हो गए थे। जाधव ने 12 पारियों में 162 रन बनाए थे। इन खिलाड़ियों में ज्यादातर ने संतोषजनक खेल दिखाया तो कुछ ने निराश किया। अब जो खिलाड़ी फॉर्म में नहीं है उनके लिए सबसे पहले खुद का फॉर्म हासिल करना बड़ी चुनौती होगी साथ ही टीम के लिए अच्छा प्रदर्शन करने का भी दवाब भी रहेगा, वहीं जिन खिलाड़ियों ने अच्छा प्रदर्शन किया उन्हें सिर्फ विश्व कप में अपनी लय बनाए रखनी है। वैसे भारतीय खिलाड़ियों के प्रदर्शन ने निराश तो नहीं किया है ऐसे में हम उम्मीद तो यही करेंगे कि इस विश्व कप में टीम इंडिया अपने कद के मुताबिक ही प्रदर्शन करे। 

-खिलाड़ी -मैच -रन -50/100 -बेस्ट प्रदर्शन -विकेट -कैच/स्टंपिंग

1. विराट कोहली -14 -464 -2/1 -100 - 5

2. महेंद्र सिंह धोनी -15 -416 -3/0 -84* - 11/5

3. शिखर धवन -16 -521 -5/0 -97* - 5

4. रोहित शर्मा -15 -405 -2/0 -67 - 4

5. हार्दिक पांड्या -16 -402 -1/0 -91 और 3/20 -14 -11

6. दिनेश कार्तिक -14 -253 -2/0 -97* - 7/0

7. केदार जाधव -14 -162 -1/0 -58 - 4

8. लोकेश राहुल -14 -593 -6/1 -100* - 7

9. विजय शंकर -15 -244 -0 -40* और 1/11 -1 -10

10.रवींद्र जडेजा -16 -106 -0 -31* -15 -9

11. भुवनेश्वर कुमार -15 -12 -0 -2/24 -13 -4

12. मोहम्मद शमी -14 -1 -0 -3/21 -19 -5

13. युजवेंद्र चहल -14 -6 -0 -4/38 -18 -3

14. जसप्रीत बुमराह -16 -0 -0 -3/20 -19 -2

15. कुलदीप यादव -9 -12 -0 -2/41 -4 -3

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Sanjay Savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस